‘जीवन में उतार-चढ़ाव के बीच मुस्‍कुराना श्री कृष्‍ण का संदेश’: मन की बात PM मोदी

0
90

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद आज पहली बार अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिये देशवासियों को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि हमारा देश, इन दिनों एक तरफ वर्षा का आनंद ले रहा है, तो दूसरी तरफ, हिंदुस्तान के हर कोने में किसी ना किसी प्रकार से, उत्सव और मेलों की धूम है। दीवाली तक, सब-कुछ यही चलेगा.

उन्‍होंने कहा कि पिछले दिनों हम लोगों ने कई उत्सव मनाए. कल हिन्दुस्तान में श्रीकृष्ण जन्म-महोत्सव मनाया गया. मित्रता कैसी हो, तो सुदामा वाली घटना कौन भूल सकता है और युद्ध भूमि में इतनी सारी महानताओं के बावजूद भी सारथी का भार स्वीकारना.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी रविवार को अपने रेडियो प्रोग्राम ‘मन की बात’ के जरिए देश को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी नियमित रूप से अपने इस कार्यक्रम के जरिए देशवासियों से जुड़ते हैं. कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने भगवान श्री कृष्ण और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद किया. उन्होंने कहा, देश इन दिनों एक तरफ बारिश का आनंद ले रहा है तो दूसरी तरफ देश के हर कोने में किसी न किसी प्रकार से, उत्सव और मेलों की धूम है. दीवाली तक सब-कुछ यही चलेगा.

यह भी पढ़े  दम है तो बाकी दो चरणों के चुनाव पूर्व पीएम राजीव गांधी के मान सम्मान के मुद्दे पर लड़िये:पीएम मोदी

पीएम ने कहा, पिछले दिनों हम लोगों ने कई त्योहार मनाए. शनिवार को देश में श्री कृष्ण जन्म-महोत्सव मनाया गया. मित्रता कैसी हो तो सुदामा वाली घटना कौन भूल सकता है और युद्ध भूमि में इतनी सारी महानताओं के बावजूद भी उन्होंने सारथी का भार स्वीकारा. मन की बात में पीएम ने कहा, आज भारत एक और बड़े उत्सव की तैयारी में जुटा है और वह है महात्मा गांधी की 150वीं जयंती.

पीएम ने कहा, गांधी जी ने किसानों की सेवा की जिनके साथ चम्पारण में भेद-भाव हो रहा था. उन मिल मजदूरों की सेवा की जिन्हें सही मजदूरी नहीं मिल रही थी. गांधी जी ने गरीब, बेसहारा और कमजोर लोगों की सेवा को अपने जीवन का परम कर्तव्य माना. पीएम ने कहा, गांधी जी ने सेवा शब्दों में नहीं – जी करके सिखाई थी. सत्य के साथ गांधी जी का जितना अटूट नाता रहा है, सेवा के साथ भी उतना ही अनन्य अटूट नाता रहा है. पीएम मोदी ने कहा, महात्मा गांधी अनगिनत भारतीयों की तो आवाज बने ही, लेकिन मानव मूल्य और मानव गरिमा के लिए एक तरह से वह दुनिया की आवाज बन गए थे.

यह भी पढ़े  11 को अमित शाह पटना में करेंगे रोड शो

पीएम ने कहा, सत्य के साथ गांधीजी का जितना अटूट नाता रहा है. सेवा के साथ भी गांधी का उतना ही अनन्य अटूट नाता रहा है. उन्होंने ना केवल सेवा पर बल दिया बल्कि उसके साथ जुड़े आत्म-सुख पर भी जोर दिया.मोदी ने कहा, पिछले कुछ सालों में हम 2 अक्टूबर से पहले लगभग 2 सप्ताह तक देशभर में ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलाते हैं. इस बार ये 11 सितंबर से शुरू होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here