मधुबनी में बाढ़ व सूखे की समीक्षा करेंगे कृषि मंत्री

0
153

राज्य के कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार मधुबनी जिला में शनिवार को बाढ़ के लिए किये जा रहे कायरे की समीक्षा करेंगे। साथ ही, रविवार को उनके द्वारा रोहतास जिला में सूखा से निपटने के लिए सरकार की तैयारियों का जायजा लेंगे। मधुबनी जिला के दौरा में उनके साथ मधुबनी जिला के प्रभारी सचिव दीपक प्रसाद भी रहेंगे। रोहतास जिला में कृषि मंत्री के निरीक्षण के क्रम में वहाँ के प्रभारी सचिव विनय कुमार उनके साथ होंगे। ज्ञात हो कि कृषि मंत्री मधुबनी एवं रोहतास जिला के प्रभारी मंत्री भी हैं। कृषि मंत्री एवं सचिव द्वारा मधुबनी जिला के बाढ़ प्रभावितों के बीच जीवन यापन को लेकर चलाये जा रहे राहत कायरे का निरीक्षण किया जायेगा। इसी प्रकार, अपने रोहतास जिला के निरीक्षण के क्रम में उनके द्वारा वहां सूखा से खेती किसानी को हुए नुकसान का आकलन किया जायेगा। इन दोनों जिलों में बाढ़ एवं सूखा से जन-जीवन पर पड़े कुप्रभाव से संबंधित रिपोर्ट भी तैयार किया जायेगा, जिसे मुख्यमंत्री को अवगत कराया जायेगा। इस रिपोर्ट के समीक्षोपरांत इन जिलों में आवश्यकतानुसार राहत कायरे का सम्पादन किया जा सकेगा।कृषि मंत्री द्वारा बताया गया कि राज्य में बाढ़ एवं सूखा से प्रभावित क्षेत्रों में खेती-बारी में क्षति का आकलन करने का निर्देश संबंधित जिला के पदाधिकारियों को दिया गया है। साथ ही, उनके द्वारा वहां पशुपालन एवं मत्स्यपालन करने वाले किसानों की क्षति का भी जायजा लेने का निदेश संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को दिया गया है। मधुबनी जिला के 19 प्रखंड बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। वहाँ लगाये गये फसलों को भी भारी नुकसान होने की खबर आ रही है। साथ-ही-साथ वहाँ जान-माल की क्षति होने की भी सूचना है। इस जिला के 5 प्रखंडों लदनियाँ, घोघरडिहा, फुलपरास, लौकही तथा खजौली में बाढ़ के कारण बालू के जमाव से भी फसलों की क्षति हुई है।

यह भी पढ़े  युवा मोर्चा ने अय्यर के पोस्टर पर पोती कालिख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here