तेजस्वी यादव के नेतृत्व में ही राजद लड़ेगा चुनाव

0
120
Patna-July.6,2019-RJD leader Tejashwi Yadav is delivering his lecture during Rashtriya Janata Dal national executive meeting at Hotel Maurya in Patna.

होटल मौर्य में शनिवार को राजद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए पार्टी नेता तेजस्वी यादव पहुंचे। लोकसभा चुनाव में राजद की करारी शिकस्त और आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति पर र्चचा करने के लिए बैठक बुलायी गयी है। पार्टी सांसद जयप्रकाश नारायण यादव ने बैठक में घोषणा की कि तेजस्वी यादव ही पार्टी के नेता होंगे। उनके नेतृत्व में ही पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। तेजस्वी ही राजद की ओर से मुख्यमंत्री के उम्मीदवार होंगे। वहीं, प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूव्रे ने कहा कि तेजस्वी यादव के ही नेतृत्व में 2020 का विधानसभा चुनाव लड़ा जायेगा। इससे पहले होटल मौर्य में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, मीसा भारती समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता पहुंचे। तेजस्वी यादव ने आम बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह गरीबों को छलनेवाला बजट है। साथ ही उन्होंने बिहार की अनदेखी किये जाने का आरोप लगाया है। वहीं, राजद विधायक विजय प्रकाश ने कहा कि घुटने में दर्द के कारण तेजस्वी यादव कहीं भी आने-जाने में असहज महसूस कर रहे हैं। इसीलिए सदन की कार्यवाही में भी शामिल नहीं हो पा रहे हैं।

यह भी पढ़े  गुनाह की खाई की ओर देख लें सोनिया-राहुल: सुशील कुमार मोदी

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने एक बार फिर से तेजस्वी यादव पर सवाल खड़े किए। कहा कि तेजस्वी यादव एक ही जाति के लोगों से घिरे रहते हैं। तेजस्वी को जाति प्रेम को त्याग कर सबका भरोसा जीतना चाहिए। राजद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शिरकत करने के बाद शिवानंद ने कहा कि तेजस्वी आगे बढ़ें और सभी का भरोसा जीतें। उन्होंने आगे कहा कि लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार भविष्य के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं। पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़े करते हुए शिवानंद तिवारी ने कहा कि पार्टी में दो तरह की स्थिति है। पार्टी विरोधी काम पर कुछ लोगों पर कार्रवाई होती है लेकिन कुछ लोगों पर कार्रवाई के नाम पर चुप्पी साध ली जाती है। शिवानन्द तिवारी ने इशारों ही इशारों में तेजप्रताप यादव को भी निशाने पर लिया और कहा कि जहानाबाद सीट तेजप्रताप के कैंडिडेट के कारण राजद हार गई। शुक्रवार को पार्टी के स्थापना दिवस कार्यक्रम में भी शिवानंद तिवारी ने मंच से ही कह दिया था कि तेजस्वी की चाल-ढाल ठीक नहीं है। उन्हें लड़ाई लड़नी होगी। अगर वे शेर का बेटा हैं तो मांद में छुपने से काम नहीं चलेगा बल्कि लड़ाई का नेतृत्व करना होगा।

यह भी पढ़े  माले देश की 22 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

मां राबड़ी देवी ने बहुत दिनों बाद आज अपने बड़े बेटे तेजप्रताप को अपनी हाथों से खाना खिलाया है। एक तस्वीर सामने आई है जिसमें राबड़ी अपने बड़े बेटे को हाथ से भोजन करा रही हैं। दरअसल होटल मौर्या में आज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक थी। उसी बैठक के कुछ देर बाद राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप एक साथ होटल के कमरा नंबर-201 में गए। उसी होटल के कमरे में राबड़ी देवी और उनके बेटों ने दिन का भोजन लिया। मां राबड़ी ने अपने बेटे तेजप्रताप को अपनी हाथ से खाना खिलाया। तस्वीर में स्पष्ट तौर पर दिख रहा है कि राबड़ी देवी नान, कढ़ी और आलू परवल की सब्जी खिला रही हैं। राबड़ी देवी के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव लंबे समय से परिवार से दूरी बनाकर रह रहे हैं। वे राबड़ी देवी के आवास की बजाए दूसरे आवास में रहते हैं। लिहाजा मां राबड़ी देवी से काफी समय तक मुलाकात नहीं होती। आज राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद मां ने अपने बेटे को काफी दिनों के बाद अपनी हाथों से खाना खिलाया। मां की हाथों से भोजन के बाद गद तेजप्रताप ने कहा कि काफी दिनों के बाद मां के हाथों से खाना खाया। इसके बाद तेजप्रताप ने अपने ट्वीटर लिखा है कि-आई लव इयू मां।

यह भी पढ़े  गरीबी मिटाने को आगे आए आईटी क्षेत्र : मोदी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here