‘ब्रिज 2019’ का पथ निर्माण मंत्री ने किया उद्घाटन

0
137

पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि ब्रिज 2019 कांफ्रेंस से प्रदेश के अभियंताओं को सार्थक जानकारी मिलेगी और अंतत: इसका फायदा बिहार के विकास को मिलेगा। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि बिहार का इंफ्रास्ट्रक्चर और विकसित हो। ये तभी होगा, जब लागत में कमी आयेगी और समय कम लगेगा। इससे जुड़ी जानकारी आज इंडियन इंस्ट्टय़ूशन ऑफ ब्रिज इंजीनियर और बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा आयोजित इस कांफ्रेंस में राज्य के इंजीनियरों को मिलेगी। श्री यादव ने कहा कि उन्नत इंफ्रास्ट्रक्चर के बिना किसी भी प्रदेश का समेकित विकास संभव नहीं है। इसे मुख्ययमंत्री नीतीश कुमार ने समझा और हमने इस दिशा में काम शुरू किया। इसके बेहतर परिणाम आज सबके सामने हैं। 15 साल पहले बिहार में पुल और सड़कों का निर्माण बस कल्पना थी, लेकिन जब बिहार में एनडीए की सरकार बनी, तब पुल से लेकर फोर लेन सड़कों का बड़े पैमाने में राज्य में निर्माण हुआ। 2005 से पहले फोर लेन क्या होता है, यह किसी को पता भी नहीं था। आज इंडियन इंस्ट्टय़ूशन ऑफ ब्रिज इंजीनियर और बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लि. ने राजधानी के ज्ञान भवन में दो दिवसीय ब्रिज 2019 पर आयोजित परिर्चचा का उद्घाटन पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने किया। इस अवसर पर पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा, बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट के मैनेजिंग डायरेक्टर संजय अग्रवाल, बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के एमडी उमेश कुमार, आईआईबीई के प्रेसिडेंट विनय गुप्ता और आईआईबीई के सेक्रेटरी डॉ. गोपाल राय ने विचार प्रकट किए। आईआईबीई दुनिया में अकेली प्रोफे-प्राफेशनल इंस्टय़ूशन है, जो आर्ट और साइंस ऑफ ब्रिज इंजीनियरिंग के प्रति पूर्णत: समर्पित है। आईआईबीई ने पिछले 29 सालों में देश और विदेश में बहुत सारे कांफ्रेंस का आयोजन किया है। उन्होंने बताया कि इस साल आईआईबीई का फ्लैगशिप इवेंट ‘‘ब्रिज2019’ का आयोजन बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड के सहयोग से राजधानी में किया गया।

यह भी पढ़े  राम मंदिर के नाम पर बीजेपी देश को जलाने की रच रही साजिश : मांझी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here