कमल हासन के बिगड़े बोल-हिंदू था आजाद भारत का पहला आतंकी

0
172

तमिलनाडु में एक जनसभा को संबोधित करते हुए साउथ के सुपरस्टार और हाल ही में नेता बने कमल हासन ने कहा कि यहां पर मुसलमान मौजूद हैं, मैं इसलिए ऐसा नहीं बोल रहा हूं. लेकिन आज़ाद भारत में पहला आतंकवादी हिंदू ही था, जो कि नाथूराम गोडसे था.बता दें इस चुनाव में हिंदू आतंकवाद का मुद्दा अपने चरम पर है. जब भारतीय जनता पार्टी ने मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से मालेगांव आतंकी ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को टिकट दिया तो विपक्षी पार्टियों ने इस पर सवाल खड़े कर दिए.

तमिलनाडु के ARIVAKURICHI में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कमल हासन ने ये बात कही. उन्होंने कहा, ‘यहां पर मुसलमान मौजूद हैं, मैं इसलिए ऐसा नहीं बोल रहा हूं. लेकिन आज़ाद भारत में पहला आतंकवादी हिंदू ही था, जो कि नाथूराम गोडसे था.’ मक्कल नीधि मियाम के प्रमुख कमल हासन ने कहा कि इसकी शुरुआत तभी हुई थी, जब नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या की थी. कमल हासन, ARIVAKURICHI में होने वाले उपचुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे. जिस वक्त कमल हासन ने ये बयान दिया. उस दौरान उनके प्रत्याशी एस. मोहनराज भी मौजूद थे.

यह भी पढ़े  पाकिस्‍तान ने गुपचुप तरीके से रिहा किया आतंकी मसूद अजहर

@ANI
Kamal Haasan during campaigning in Aravakurichi assembly constituency, Tamil Nadu, yesterday: “I am not saying this because many Muslims are here. I’m saying this in front of Mahatma Gandhi’s statue. First terrorist in independent India is a Hindu, his name is Nathuram Godse.”

विपक्ष के सवाल उठाने के बावजूद बीजेपी इस मुद्दे पर आक्रमक ही रही. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत पूरी बीजेपी ने इस मुद्दे पर कांग्रेस को घेरा और उनपर हिंदुओं को अपमानित करने का आरोप लगाया. रविवार को ही इंदौर जनसभा में पीएम मोदी ने कहा कि इन (कांग्रेस) लोगों ने भगवा पर आतंकवाद का दाग लगाया है.

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे पर भी विवाद होता रहा है. देश के कुछ हिस्सों में नाथूराम का मंदिर भी है, जहां उसे पूजा जाता है. तो वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी RSS और बीजेपी को गोडसे की विचारधारा वाला बताते रहे हैं. इस मुद्दे पर RSS के द्वारा उनपर मानहानि का केस भी किया जा चुका है.

यह भी पढ़े  दिल्ली चुनाव के बाद नीतीश को जवाब देने आएंगे प्रशांत किशोर, 11 फरवरी को पटना से हल्ला बोल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here