पंद्रह साल के शासन में जनता के लिए कोई काम नहीं किया : नीतीश

0
244

15 साल पति पत्नी को काम करने का मौका मिला लेकिन इन लोगों ने बिहार की जनता के लिए कुछ नहीं किया। कुछ लोग काम नहीं करना चाहते, वे भ्रम फैलाकर वोट पाने में लगे हैं। ये बातें विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने दिनारा, बिहारशरीफ, जहानाबाद और बिक्रमगंज की चुनावी सभाओं में कही। बक्सर लोकसभा सीट से एनडीए प्रत्याशी सह स्वास्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे के पक्ष में रविवार को दिनारा हाईस्कूल के मैदान में सभा करने पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने चुनावी सभा में महागठबंधन को कई मुद्दों पर घेरा। सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान के तहत पांच लाख की खर्च तक इलाज कराने की योजना शुरू की जिसका लाभ हजारों लोगों ने उठाया है। किसानों को अब कर्ज लेने की जरूरत नहीं है। इसके लिए किसान सम्मान योजना के तहत 6 हजार रपए देने का काम शुरू किया है। यहां के लोगों को जितना भोजन में खर्च नहीं करते उतना इलाज कराने में खर्चा हो जाता है। इसके लिए हम लोगों ने काम किया। आज एक एक प्राथमिक स्वास्य केंद्र में प्रत्येक दिन करीब 300 से अधिक लोग इलाज कराते हैं। सात निश्चय योजना के बारे में कहा कि हर घर नल का जल 2020 तक लक्ष्य को पूरा कर लेंगे। गांव के अंदर पक्कीकरण गली नली निर्माण करवा रहे हैं। लोहिया स्वच्छता मिशन के तहत शौचालय निर्माण कार्य तेजी से हो रहा है। सिंचाई के लिए अलग से कृषि फीडर होगा। आगे उन्होंने कहा कि आपने हमें खिदमत करने का मौका दिया। हमने बिहार के सभी इलाकों की खिदमत की। हमारी सरकार अल्पसंख्यक और पिछड़ी जातियों को आगे लायी। जीविका योजना के तहत एक करोड़ महिलाओं को जोड़ा गया। केन्द्र और राज्य की सरकार ने प्रतिष्ठा बढ़ाने के लिए जो काम किया है,उसे आगे बढ़ाइए। जात-पात के नाम पर भड़काने की कोशिश होगी,उससे सचेत रहिए। केन्द्र ने आरक्षण के साथ छेड़छाड़ नहीं किया। मोदी सरकार ने किसी की उपेक्षा नहीं की, बल्कि अलग से आरक्षण का व्यवस्था की।किसी में दम नहीं है, जो संविधान में वर्णित आरक्षण को समाप्त कर दे। मुख्यमंत्री ने विपक्ष पर आरक्षण के मामले पर अफवाह फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष वोट पाने के लिए लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘वर्ष 2001 में पंचायत चुनाव हुआ, जिसमें महिलाओं को तो छोड़ दीजिए, अति पिछड़ों, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति को भी आरक्षण नहीं था। 2005 में आपने हमें काम करने का मौका दिया। 24 नवम्बर को काम संभाला और तीन माह बाद पंचायत का चुनाव था। कानून बनाकर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अतिपिछड़े वर्ग को आरक्षण और महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया। सभी को दिया सम्मान, सबके लिए किया काम, मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जातियों को सम्मान दिया है। हिंदू, मुस्लिम सबके लिए काम किया है। केंद्र में मोदी सरकार व राज्य में हमने किया। इसके बदले एनडीए उम्मीदवार सह भाजपा प्रत्याशी अश्विनी कुमार चौबे के पक्ष में हम आपका सहयोग व समर्थन मांगने आए हैं। अध्यक्षता अमिरचंद सिंह व संचालनकर्ता लोजपा प्रदेश उपाध्यक्ष जगनारायण साह वहीं सभा को संबोधित करने वालों मे उद्योगमंत्री सह स्थानीय विधायक जयकुमार सिंह, परिवहन मंत्री संतोष निराला, रामनाथ ठाकुर, राजूरंजन सिंह, भाजपा प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र सिंह, श्यामलाल कुशवाहा, रवि भेलारी, विंध्याचल केसरी, सुनील सिंह, अनिल सिंह, जेके सिंह, सुरेन्द्र सिंह, मान सिंह, बचन चौबे, प्रदीप पांडेय, सत्यप्रकाश सिंह आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़े  आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, अधिकारी ने रोका तो हुए आगबबूला

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here