पटना साहिब और पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र में अस्पतालों में भर्ती मरीज भी दे सकेंगे वोट

0
121
PATNA - D , M OFFICE ME D , M , KUMAR RAVI LOKSHAVA CHNOW KO LAKAR BHATAK

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी कुमार रवि ने समाहरणालय (हिन्दी भवन) स्थित सभाकक्ष में दिव्यांग मतदान दलों के कर्मियों को प्रशिक्षण दिया। उन्होंने बताया कि पटना जिला अंतर्गत पांच दिव्यांग मतदान केन्द्र बनाये गये हैं जिनमें सभी मतदान कर्मी यथा पीठासीन पदाधिकारी, मतदान पदाधिकारी एवं मतदान कर्मी दिव्यांग ही होंगे। पांच मतदान केन्द्रों में एक दिव्यांग महिला मतदान केन्द्र होगा जिसमें सभी मतदान कर्मी यथा पीठासीन पदाधिकारी, मतदान पदाधिकारी दिव्यांग महिला मतदानकर्मी ही होंगी।जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी ने बताया कि सभी दिव्यांग मतदानकर्मियों में काफी उत्साह देखा जा रहा है। दिव्यांग महिला मतदानकर्मी काफी उत्साहित हैं। दिव्यांग महिला मतदान केन्द्र में दिव्यांग महिला मास्टर ट्रेनर दिया जा रहा है। दो दिव्यांग मतदान केन्द्रों के लिए एक मास्टर ट्रेनर दिया जा रहा है। उन्होंने सभी दिव्यांग मतदानकर्मियों को वीयू, बीयू, वीवीपैट एवं मॉक पोल का प्रशिक्षण स्वयं दिया। दिव्यांग मतदानकर्मियों के उत्साह को देखते हुए कहा कि किसी भी दिव्यांग मतदानकर्मियों को किसी प्रकार की कठिनाई न हो इसके लिए जिला प्रशासन तत्पर रहेगा। उन्होंने आवश्यक दिशा निर्देश देने एवं दिव्यांग मतदानकर्मियों से पल-पल रूबरू होने के लिए वरीय नोडल पदाधिकारी, प्रशिक्षण को वाह्टसएप ग्रुप बनाकर सभी मतदानकर्मियों तथा जिला निर्वाचन पदाधिकारी को ग्रुप में शामिल करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी कुमार रवि के साथ वरीय प्रभारी पदाधिकारी, स्थापना अरुण कुमार झा, वरीय प्रभारी पदाधिकारी, प्रशिक्षण मोइजुद्दीन, नोडल पदाधिकारी, कार्मिक सुविर रंजन, नोडल पदाधिकारी, प्रशिक्षण सुधीर कुमार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी अनिल कुमार चौधरी सहित सभी संबंधित पदाधिकारी, मतदानकर्मी उपस्थित थे। 

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने इसके लिए की सिविल सर्जन और सरकारी व निजी अस्पतालों के प्रबंधकों के साथ बैठक, भर्ती और खतरे से बाहर वाले मरीज बूथ पर जाकर मतदान कर सकें इसके लिए जरूरी सुविधा प्रदान करने का दिया निर्देश

पटना जिले में बनाये गये हैं पांच दिव्यांग बूथ, इनमें से एक होगा दिव्यांग महिला मतदान केन्द्र
जिला निर्वाचन पदाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में सिविल सर्जन एवं सरकारी व निजी अस्पतालों से आये हुए प्रबंधकों के साथ बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन तथा सरकारी व निजी अस्पतालों से आये हुए सभी प्रबंधकों को निर्देश दिया कि अस्पताल में भर्ती मरीज, जो खतरे से बाहर हैं तथा मतदान केन्द्र पर जाकर अपना मतदान करना चाहते हैं, उन्हें मतदान करने की सुविधा प्रदान की जाये। वैसे मरीज मतदाताओं को उनके साथ आये परिजनों के साथ मतदान केन्द्र तक भेजने तथा मतदान के बाद वापस लाने के लिए एम्बुलेंस सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की जाये ताकि भारत निर्वाचन आयोग का यह थीम कि ‘‘कोई मतदाता छूटे न’ पूर्णत: सफल हो सके। जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी ने सभी सरकारी एवं निजी अस्पतालों के प्रबंधकों को निर्देश दिया कि अस्पताल के मरीजों का नाम, उनका मतदान केन्द्र तथा मतदान केन्द्र पर ले जाने एवं लाने के लिए जिस एम्बुलेंस का प्रयोग होगा उसकी वाहन संख्या 16 मई तक सिविल सर्जन, पटना को उपलब्ध करा दिया जाये ताकि संबंधित मतदान केन्द्रों को सतर्क किये जाने के साथ-साथ प्रयोग में आने वाली गाड़ियों का प्रवेश पत्र दिया जा सके। जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी ने बताया कि आपके सहयोग से पहली बार 30-पटना साहिब निर्वाचन संसदीय क्षेत्र एवं 31-पाटलिपुत्र संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में मरीज मतदाता के लिए भी मतदान करने की व्यवस्था का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने सभी सरकारी एवं निजी अस्पताल के प्रबंधकों को निर्देश दिया कि जो भर्ती मरीज मतदान करना चाहते हैं उनसे सहमति प्राप्त कर ली जाये तथा उनकी चिकित्सीय स्थिति का भी आकलन कर लिया जाये। सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि बड़े सरकारी अस्पतालों से भी बात कर ऐसे मरीजों के मतदान करने की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी ने सरकारी एवं निजी अस्पतालों के प्रबंधकों को निर्देश दिया कि मरीजों को मतदान करने के लिए प्रोत्साहन देने हेतु तथा अधिक से अधिक खतरों से बाहर भर्ती मरीजों को मतदान करने के लिए प्रेरित किया जाये। सभी अस्पताल प्रबंधकों से अनुरोध किया गया कि ऐसे इच्छुक भर्ती मरीजों की सूची उनकी सहमति एवं उनके मतदान केन्द्र संख्या/पता के साथ 14 मई तक भेज दी जाये ताकि मतदान केन्द्र पर समुचित व्यवस्था करायी जा सके। बैठक में जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी के अलावा उप विकास आयुक्त डॉ. आदित्य प्रकाश, सिविल सर्जन, पटना डॉ. राजकिशोर चौधरी सहित प्रबंधक पारस हॉस्पीटल, प्रबंधक उदयन हॉस्पीटल, प्रबंधक हार्ट हॉस्पीटल कंकड़बाग, प्रबंधक साई हॉस्पीटल, प्रबंधक रूबन मेमोरियल हॉस्पीटल तथा प्रबंधक, कुर्जी होली फैमिली हॉस्पीटल सहित कई निजी हॉस्पीटल के प्रबंधक उपस्थित थे। 

यह भी पढ़े  मुजफ्फरपुर : सीबीआइ टीम ने बालिका गृह को दोबारा किया सील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here