पांचवां चरण : 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे मतदाता

0
203
लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के लिए सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर की सीटों पर सोमवार को सुबह सात से शाम छह बजे वोट डाले जायेंगे. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सीतामढ़ी में 1776, मधुबनी में 1837,  मुजफ्फरपुर में 1748, सारण में 1711 तथा हाजीपुर में 1827 मतदान केंद्रों पर वोटर 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे.
कुल उम्मीदवारों में छह महिला उम्मीदवार हैं. सीतामढ़ी और सारण में एक भी महिला प्रत्याशी नहीं है.   पेट्रोलिंग  मजिस्ट्रेट की निगरानी में पोलिंग मेटेरियल  और पोलिंग पार्टियां रविवार की  शाम तक सभी मतदान केंद्रों पर पहुंच गयीं.  सुरक्षा की दृष्टि से हेलीकॉप्टर भी  तैनात रहेगा. पटना में भी एक एयर एंबुलेंस की व्यवस्था रहेगी. बड़ी संख्या  में पुलिस और केंद्रीय अर्धसैनिक बल के अलावा वैशाली-सारण के दियारा इलाके में घुड़सवार और नाव से गश्ती की जायेगी.  इस चुनाव में 12,000 गाड़ियों का उपयोग किया जा रहा है.
जिन प्रमुख उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला इवीएम मेे बंद होगा, उनमें हाजीपुर में राज्य सरकार के मंत्री पशुपति कुमार पारस और राजद के पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम,  सारण में भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी और राजद के पूर्व मंत्री चंद्रिका राय, मुजफ्फरपुर में भाजपा सांसद अजय निषाद और वीआइपी के राजभूषण चौधरी, मधुबनी में भाजपा के अशोक यादव, वीआइपी के बद्री पूर्वे और निर्दलीय डॉ शकील अहमद तथा सीतामढ़ी में जदयू के सुनील कुमार पिंटू और राजद के अर्जुन राय शामिल हैं. मुंगेर लाेकसभा क्षेत्र के दो मतदान केंद्रों पर आज दोबारा वोट डाले जायेंगे.
यह दोनों ही बूथ लखीसराय क्षेत्र में आते हैं.  मुंगेर लोकसभा क्षेत्र के लखीसराय के बूथ नंबर 339 और 340 पर सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक दोबारा मतदान होगा.  लखीसराय विधानसभा क्षेत्र के मध्य विद्यालय घोंघसा स्थित मतदान केंद्र (संख्या 339 और 340 ) पर निष्पक्ष मतदान नहीं होने की शिकायत मिली थी. चुनाव के बाद शिकायत की जांच की गयी तो दोनों मतदान केंद्रों पर चुनाव में धांधली  के प्रमाण मिले थे.  इसके बाद जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने  दोनों मतदान केंद्रों पर दोबारा मतदान  का निर्णय लिया था. मुंगेर में चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान हुआ था.
पांच सीटों में से चार पर एनडीए का कब्जा
पांचवें चरण की पांच सीटों में से चार पर एनडीए का कब्जा है. पिछले चुनाव में मधुबनी -मुजफ्फरपुर – सारण में भाजपा, सीतामढ़ी में रालोसपा और हाजीपुर में लोजपा ने जीत हासिल की थी. राज्य की 40 लोकसभा सीट में  अब तक 19 सीटों पर मतदान हो चुका है. पांचवें चरण के मतदान के बाद 16 सीटें बच जायेंगी. इस चरण में मधुबनी को छोड़कर सभी एनडीए – महागठबंधन में आमने- सामने की लड़ाई है. मधुबनी में कांग्रेस के शकील अहमद के निर्दलीय मैदान में होने से मुकाबला त्रिकोणीय है.
जीत के लिए मोदी – शाह ने लगायी पूरी ताकत : पांचवें चरण में अपना प्रदर्शन दोहराने के लिए एनडीए ने  यहां पूरी ताकत लगा दी है. प्रधानमंत्री ने  मुजफ्फरपुर , मधुबनी और  सारण में चुनावी सभाएं कर वोट बैंक को साधा. वहीं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी सारण, सीतामढ़ी,  मधुबनी, मुजफ्फरपुर में एनडीए उम्मीदवारों के लिए माहौल बनाया. महागठबंधन की ओर से  शरद यादव, तेजस्वी प्रसाद यादव ही मुख्य रूप से स्टार प्रचारक रहे.
कहां कितने उम्मीदवार
कुल उम्मीदवार 82
महिला उम्मीदवार  06
सीतामढ़ी 20
मधुबनी 17
मुजफ्फरपुर 22
हाजीपुर 11
सारण 12
कुल बूथ
8,899
 संवेदनशील  बूथ
1979
पोलिंग स्टाफ
65,000
माइक्रो पर्यवेक्षक
4349
बैलेट यूनिट
14,260
वीवीपैट
8899
वेबकास्टिंग
400
यह भी पढ़े  उपेंद्र कुशवाहा का अनशन दूसरे दिन भी रहा जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here