लोकसभा चुनाव 2019: बांका में 57.64 प्रतिशत मतदान के साथ प्रत्याशियों का भविष्य EVM में बंद

0
194

बांका लोकसभा क्षेत्र में गुरुवार को शांतिपूर्ण मतदान सुबह 7:00 बजे से शुरू हो गया है जिले के करीब एक दर्जन बूथों पर ईवीएम खराब होने के कारण मतदान लेट से शुरू हुआ इधर अमरपुर में बूथ संख्या 149 पर मतदाताओं ने सड़क की मांग को लेकर वोट बहिष्कार करने का निर्णय लिया है।

डीएम कुंदन कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन ग्रामीणों को समझाने का प्रयास कर रही है वहां सारी तैयारी कर ली गई है जल्द ही ग्रामीण वोट डालने के लिए मतदान केंद्र पर पहुंचेंगे इधर इधर बिहार के राजस्व मंत्री राम नारायण मंडल ने जीता और पूरी स्कूल स्थित मतदान केंद्र पर अपना मताधिकार का प्रयोग किया।

उन्होंने कहा कि इस बार मतदान का प्रतिशत पिछले चुनाव की अपेक्षा ज्यादा होगा मतदान को लेकर बांका डीएम एवं एसपी हर जगह निरीक्षण में जुटे हुए हैं जहां से भी शिकायत मिल रही है वहां कार्यवाही के लिए आदेश दिया जा रहा है मतदान के प्रथम 2 घंटे में करीब 8% मतदान होने की सूचना मिल रही है कहीं से किसी अप्रिय घटना कि अब तक सूचना नहीं है पुलिस लगातार क्षेत्र में सक्रिय है।

यह भी पढ़े  लोकसभा चुनाव 2019 मधुबनी में 51.77 % मतदान के साथ चुनाव संपन्न

बांका लोकसभा सीट से सांसद की तकदीर का फैसला आज यानि 18 अप्रैल को होने जा रहा है। यहां चुनावी मैदान में खड़े कुल 20 प्रत्याशियों के भाग का फैसला मतदाता इबीएम में कैद करेंगे। मतदान की सारी तैयारी जिला प्रशासन के द्वारा पूरी कर ली गई है। कुल 1941 मतदान केंद्रों पर चुनाव संपन्न कराया जाएगा। इनमें से नक्सल प्रभावित बूथों की संख्या 197 है।

बांका लोकसभा क्षेत्र से इस बार कुल 20 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं लेकिन मुख्य मुकाबला 3 प्रत्याशियों के बीच माना जा रहा है इस त्रिकोणीय मुकाबला में जदयू के गिरिधारी यादव , राजद के जयप्रकाश नारायण यादव एवं भाजपा की बागी उम्मीदवार निर्दलीय पुतुल कुमारी के बीच होना लगभग तय है। इस चुनाव में किसकी जीत होगी यह तो मतदाता 18 अप्रैल को निश्चित कर देंगे लेकिन 23 मई को ही किसके सिर होगा ताज यह सुनिश्चित होगा। बांका लोकसभा क्षेत्र इस बार ज्यादा चर्चा में रहा क्योंकि एनडीए की ओर से जदयू ने बेलहर विधायक गिरधारी यादव को मैदान में उतारा तो राजद से निवर्तमान सांसद जयप्रकाश नारायण यादव उम्मीदवार बने इस बीच भाजपा नेत्री पुतुल कुमारी ने बागी उम्मीदवार के रूप में निर्दलीय चुनाव लड़ना तय किया इस कारण मुकाबला त्रिकोणीय हो गया।

यह भी पढ़े  पहले चरण की 4 लोकसभा सीटों पर डाले जा रहे वोट, चार सीटें तय करेंगी आगे की राह

नक्सल प्रभावित क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर अर्धसैनिक बलों के साथ विशेष सुरक्षा का इंतजाम किया गया है। जिले के हर बूथ पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की गई है। कहीं से भी कोई गड़बड़ी की शिकायत मिलती है तो पुलिस प्रशासन इसके लिए पूरी तरह अलर्ट है। बांका में 2014 के लोकसभा चुनाव में कुल 58% मतदाताओं ने वोट किया था लेकिन इस बार वोट का प्रतिशत ज्यादा होने की संभावना है क्योंकि इस बार लगभग 10565 नए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ा गया है। इस बार बांका में चुनाव विभिन्न मुद्दों के मुकाबले जातिगत समीकरण पर ज्यादा लगा जा रहा है हालांकि सभी उम्मीदवार विकास को अपनी मुद्दा बता रहे हैं।

बांका में वोटरों की ताकत-2019
कुल मतदाता– 16,87,920
पुरुष मतदाता- 8,96,329
महिला मतदाता- 7,91,591
थर्ड जेंडर- 20
नए मतदाता- 10565

इनके बीच में मुकाबला

  • गिरिधारी यादव जदयू
  • जयप्रकाश नारायण यादव राजद
  • पुतुल कुमारी निर्दलीय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here