हत्या के विरोध में बंद रहीं बाकरगंज की दुकानें

0
181
MITHAI VEBSAI KA SAV

मिठाई कारोबारी पुरु षोत्तम गुप्ता की हत्या के विरोध में रविवार को बाकरगंज की तमाम दुकानें बंद रहीं। शव सड़क पर रखकर घंटों प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी राजधानी में बढ़ रहे अपराध को नियंत्रित करने व वारदात में शामिल बदमाशों को दबोचने की मांग कर रहे थे। लगभग ढाई बजे रोड जाम उस वक्त समाप्त किया गया जब पुलिस ने शीघ्र बदमाशों को दबोच लेने का भरोसा दिलाया। प्रदर्शनकारियों के कारण बाकरगंज रोड अपना बाजार तक जाम रहा। वाहनों को दूसरे मार्ग में डायवर्ट कर दिया गया था।डाकबंगला चौराहे के समीप स्थित पाल स्वीट्स होम के मालिक पुरु षोत्तम गुप्ता (36) की हत्या शनिवार की रात उस वक्त कर दी गयी थी जब वह अपनी दुकान पर बाइक से जा रहे थे। घर वालों की मानें तो उनके पास कुछ पैसे थे और उसी को लूटने के क्रम में पुरु षोत्तम की हत्या कर दी गयी। पुलिस ने शव का पंचनामा कराने के बाद रात साढ़े बारह बजे ही पोस्टमॉर्टम करा दिया था। रविवार की सुबह परिजनों को पुलिस ने शव सुपुर्द कर दिया। शव लेने के बाद बाकरगंज ले जाकर रोड जाम कर दिया गया। उस मार्ग से किसी भी वाहन को गुजरने नहीं दिया जा रहा था। प्रदर्शनकारी नारेबाजी करते हुए टायर जलाकर आगजनी कर रहे थे। प्रदर्शन के कारण जहां बारी पथ से वाहन गांधी मैदान की ओर नहीं जा पा रहे थे वहीं गांधी मैदान के करगिल चौक से बाकरगंज मोड़ से होते स्टेशन जाने वाले वाहनों का रूट डायवर्ट कर दिया गया। वाहनों को बिस्कोमान के रास्ते भेजा जा रहा था। सड़क जाम की खबर पाकर मौके पर कोतवाली के इंस्पेक्टर रमाशंकर सिंह, पीरबहोर के रिजवान अहमद, कदमकुआं के निशिकांत निशी को अतिरिक्त बल के साथ बुलाया गया। डीएसपी (टाउन) सुरेश कुमार, डीएसपी (विधि-व्यवस्था) राकेश कुमार भी मौके पर मौजूद थे। बज्र वाहन के अलावा स्टेट रैफ को भी मौके पर बुलाया गया था। पुलिस अधिकारियों की काफी मशक्कत के बाद प्रदर्शनकारियों ने इस आश्वासन पर प्रदर्शन समाप्त किया कि पुलिस अति शीघ्र बदमाशों को दबोच लेगी।लीवर और भोजन की थैली को क्षतिग्रस्त कर गयी थी गोलीमिठाई कारोबारी के शव का पोस्टमॉर्टम शनिवार की रात बारह बजे ही पुलिस ने करा लिया था। पटना मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक मेडिसिन के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गोली बायीं ओर छाती में मारी गयी थी। गोली पसली की दो हड्डियों को क्षतिग्रस्त कर लीवर और खाने की थैली को क्षतिग्रस्त करने के बाद छाती के ऊपर कांख के पास फंसी थी। पोस्टमॉर्टम में गोली बरामद कर पुलिस को सौंप दिया गया है।पटना। पटना पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही पुरु षोत्तम की हत्या में शामिल बदमाशों को दबोच लिया जाएगा। पुलिस का कहना है कि घटना की परिस्थितियों व अब तक मिली जानकारी के मुताबिक यह प्रतीत हो रहा है कि बदमाश पुरु षोत्तम के पीछे बाकरगंज से ही लगे थे। फ्रेजर रोड में सुनसान देखकर वारदात को अंजाम दिया। पुलिस के मुताबिक घटनास्थल के समीप लोगों से पूछताछ से यह जानकारी मिली है कि बाइक ओवरटेक करने के बाद जब पुरु षोत्तम ने बदमाशों को देखा तो कह रहे थे कि यह क्या कर रहे हो। बदमाश और कारोबारी के बीच हाथापायी भी हुयी और फिर बदमाश गोली मारकर भाग निकले। लोगों का कहना है कि पुरु षोत्तम के पास एक बैग भी था। बदमाश बैग लेकर भाग निकले हैं। एसएसपी गरिमा मल्लिक ने मामले का खुलासा करने के लिए रात में ही विशेष टीम का गठन कर दिया था। पुलिस टीम बदमाशों की तलाश के लिए जहां संदिग्धों के सीडीआर खंगाल रही थी वहीं दूसरी टीम कई स्थानों पर छापेमारी कर रही थी। रविवार को गांधी मैदान थाने में डीएसपी, टाउन सुरेश कुमार ने विशेष टीम के अधिकारियों के साथ मामले पर र्चचा की। इस बीच, पुलिस ने एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है। वह वारदात के वक्त मौके पर मौजूद था। पुलिस को उससे कुछ जानकारी मिली है। जांच के मद्देनजर पुलिस उस पर कुछ नहीं बोल पा रही है। पुलिस ने इतना अवश्य कहा कि मामला लूट का प्रतीत नहीं होता। पुलिस के मुताबिक घर के लोग भी यह स्पष्ट नहीं कर रहे हैं कि पुरु षोत्तम कितने रुपये लेकर जा रहे थे। बीसी की बात उठी है लेकिन बीसी रविवार को होने वाली थी। पुलिस का कहना है कि यह पता लग रहा है कि वारदात में किसी पहचान के बदमाश का हाथ है। वक्त लग रहा है, उसका खुलासा कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़े  पीयू के हॉस्टलों पर प्रशासन की कड़ी नजर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here