लूटपाट के दौरान पंपकर्मी को उतारा मौत के घाट

0
219

फतुहा-दनियावां मार्ग पर थाना क्षेत्र के नयका रोड के समीप स्थित शुभकामना पेट्रोल पम्प पर गुरुवार की देर रात हथियारबंद लुटेरों ने धावा बोलते हुये लूटपाट शुरू कर दी। एक पेट्रोलकर्मी ने जब विरोध किया तो लुटेरो ने उसके सीने में तीन गोलियां दाग दीं जिससे घटनास्थल पर ही उसने दम तोड़ दिया। उसके बाद सभी लुटेरे भाग खड़ा हुए। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए पटना भेज दिया। मृत पम्पकर्मी की पहचान नालन्दा जिले के थरथरी थाना क्षेत्र के मेहतराना गांव निवासी नगीना पासवान का पुत्र 25 वर्षीय वसंत पासवान के रूप में हुयी। शनिवार को जैसे ही मृतक का शव पेट्रोलपम्प के पास लाया गया उग्र ग्रामीणों ने फतुहा-दनियावां मार्ग जाम कर अपराधियों की अविलम्ब गिरफ्तारी तथा पीड़ित परिजनों को मुआवजे की मांग करने लगे। बाद में पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा आश्वासन मिलने के बाद उग्र लोग शान्त हुये। इस मामले में पुलिस तीन लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है तथा पेट्रोल पम्प पर लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगालते हुये लुटेरों की पहचान करने में जुटी है। बताया जाता है कि गुरुवार रात करीब साढ़े ग्यारह बजे बाद शुभकामना पेट्रोल पम्पकर्मी वसंत पासवान तेल बिक्री का पैसा लेकर पम्प कार्यालय के लॉकर रूम में जैसे ही गया कि तीन सशस्त्र लुटेरे पीछे के रास्ते से पहुंचे और लॉकर की चाबी मांगने लगे। जब वसंत ने चाबी देने से इनकार किया तो बदमाशो ने दनादन तीन गोलियां बसंत पर दाग दीं जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी। इसबीच लुटेरे बसंत के पास रहे पैसे लूटकर फरार हो गए। हालांकि पेट्रोल पम्प के आगे सीसीटीवी कैमरे तो लगे हैं लेकिन लॉकर रूम में सीसीटीवी नही है और बदमाश इन तयों से वाकिफ थे। लिहाजा वे पेट्रोल पम्प पर आगे से न आकर पीछे से आए तथा ठीक उसी समय हमला किया जब पम्पकर्मी पैसे जमा करने लॉकर में पहुंचा। इस घटना के बाद पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुये दनियावां थाना क्षेत्र से तीन लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। हालांकि इस मामले मे अभी तक कोई प्राथमिकी दर्ज नही हुई है। दूसरी तरफ फतुहा-दनियावां राजमार्ग पर लगे जाम में उग्र लोगो को थानाध्यक्ष शम्भुनाथ यादव दल-बल के साथ समझाने-बुझाने में जुट गये। बाद में दलित सेना के दिलीप पासवान व रणविजय पासवान ने परिजनो की तरफ से हत्यारे की अविलंब गिरफ्तारी और मृतक के परिजनो को मुआवजा देने की मांग की जिस पर पेट्रोल पम्प मालिक ने तत्काल मृतक की पत्नी सोना देवी को एक लाख का चेक व सिक्युरिटी कम्पनी द्वारा पेंशन देने का आश्वासन दिया तब जाकर जाम हटा।़या गया। बताते चले कि 4 जनवरी 2017 की रात को भी हथियारबंद अपराधियों ने इसी पेट्रॉल पम्प पर पम्पकर्मियों को बंधक बनाकर एक लाख नब्बे हजार रूपया लूट लिया। अभी कुछ दिन पहले भी इसी पम्प पर तेल भराने तथा पैसे न दिए जाने पर तीन युवको ने पंप पर दहशत फैलाने के उदेश्य से पिस्तौल लहराया था जिसमे पुलिस ने दो लोगो को गिरफ्तार कर जेल भी भेज चुकी है। पुलिस इस मामले को भी टटोलकर देख रही है। इसके अलावे पुलिस अन्य तयों तथा अन्य पेट्रोल पंप कर्मी की मिली सहभागिता की भी जांच कर रही है।

यह भी पढ़े  BJP को हराना है तो सबको सम्मान देना जरूरी : रघुवंश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here