नागपुरिया ब्रांड मोदी सरकार सामाजिक न्याय विरोधी है:तेजस्वी यादव

0
183
file photo

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के सवर्णों को आरक्षण दिये जाने के बाद से आरोप-प्र्रत्यारोप का दौर शुरू है. जननायक कर्पूरी ठाकुर जयंती पर 24 जनवरी को पटना में आयोजित समारोह से राजद विभिन्न मुद्दाें को लेकर केंद्र सरकार को सत्ता से हटाने की शुरुआत करेगी. राजद के इन मुद्दाें में सवर्ण आरक्षण भी शामिल किये जाने की बात पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद ने कही है. इसी बीच, राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला है.

तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा है कि ‘लंबे संघर्ष के बाद उच्च शिक्षा में हासिल संवैधानिक आरक्षण को मनुवादी मोदी सरकार ने लगभग खत्म कर दिया है. 200 प्वाइंट रोस्टर के लिए सरकार द्वारा दायर कमजोर एसएलपी को सुप्रीम कोर्ट में खारिज कर दिया गया है. अब विभागवार आरक्षण यानी 13 प्वाइंट रोस्टर लागू होगा.’

साथ ही उन्होंने कहा है कि ”नागपुरिया ब्रांड मोदी सरकार सामाजिक न्याय विरोधी है. संविधान विरोधी है. दलित, पिछड़ा, अल्पसंख्यक और बहुजन विरोधी है.आरक्षण विरोधी है. इन्होंने जांच एजेंसियों और संवैधानिक संस्थाओं का कबाड़ा कर दिया है. ये कट्टर संघी जातिवादी और पूंजीपरस्त लोग देश का बंटाधार कर नफरत बोने में लगे है.”

यह भी पढ़े  फायदा रालोसपा को नहीं मिला तो घाटा हम क्यों सहें : कुशवाहा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here