बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले यह केवल उनकी मांग नहीं बल्कि यह सर्वदलीय मांग रही है.:नीतीश कुमार

0
348
Patna-Jan.21,2019-Bihar Chief Minister Nitish Kumar is addressing a press conference after Lok Samwad programme at his residence in Patna.

नीतीश कुमार ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिए जाने पर केंद्र की पिछली यूपीए सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह सर्वदलीय मांग है, इस पर विचार होना चाहिए. पटना के एक अणे मार्ग पर सोमवार को लोक संवाद के बाद नीतीश ने कहा कि इसको लेकर केंद्र की पिछली यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान समिति बनी और उसकी रिपोर्ट आयी और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से आग्रह किए जाने के बावजूद केंद्र की पिछली सरकार ने इसके लिए कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले यह केवल उनकी मांग नहीं बल्कि यह सर्वदलीय मांग रही है.

कांग्रेस की रैली पर नीतीश की प्रतिक्रिया

आगामी तीन फरवरी को कांग्रेस की पटना में प्रस्तावित ‘जन आकांक्षा रैली’ में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के शामिल होने और प्रदेश सरकार जनता से किए वादों को नहीं निभाए जाने को उजागर किए जाने की चर्चा के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा कि इससे अच्छी कोई बात ही नहीं होगी. वहीं कोलकाता में ममता बनर्जी की रैली के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा कि सभी पार्टियों को अपने-अपने हिसाब से रैली, कार्यक्रम करने का अधिकार है. चुनाव में अंतिम निर्णय जनता को करना है.

यह भी पढ़े  शैक्षणिक कैलेंडर का पूर्णत: करें पालन : राज्यपाल

एनडीए की रैली

पटना में आगामी तीन मार्च को एनडीए की रैली होने की चर्चा के बारे में नीतीश ने कहा कि बातचीत हो रही है जब रैली होगी तो उसके बारे में विधिवत घोषणा की जाएगी. एनडीए की उस रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा कि लोगों की अपेक्षा तो होगी ही लेकिन इसके बारे में अंतिम तौर पर निर्णय नहीं लिया गया है. यह पूछे जाने पर एनडीए की यह रैली कांग्रेस की रैली का जवाब होगा, नीतीश ने इससे इंकार करते हुए कहा कि सबको अपनी बात कहने का अधिकार है.

सीट बंटवारे पर बयान

बिहार में एनडीए के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर पूछे गए एक प्रश्न पर नीतीश ने कहा कि फरवरी के अंत तक इन सब चीजों पर आपको जानकारी मिल जाएगी. उन्होंने कहा कि बिहार में बीजेपी के साथ हमलोग अच्छी तरह से सरकार चला रहे हैं. नीतीश ने कहा कि बीजेपी-एलजेपी-जेडीयू तीनों साथ मिलकर अगला लोकसभा का चुनाव पूरी मजबूती से लड़ेंगे और बेहतर परिणाम भी आयेंगे.

यह भी पढ़े  राहुल गांधी की जिम्मेवारी निष्ठा से निभायेंगे : मो.जावेद

ईवीएम को लेकर नीतीश कुमार का बयान

इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से चुनाव कराए जाने से संबंधित प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मैं इससे सहमत हूं कि ईवीएम से चुनाव होने चाहिए. प्रत्येक बूथ पर वीवीपैट का इंतजाम हो.’’ उन्होंने कहा कि मुख्य चुनाव आयुक्त को हमलोगों ने यह सुझाव दिया है कि मतदाता पर्ची हर घर में पहुंचने की व्यवस्था सुनिश्चित हो. परिवार को पर्ची सौंपकर उससे रिसिविंग भी लेने की व्यवस्था करें. इससे मतदाता अपनी पर्ची लेकर आसानी से मतदान कर सकेंगे.

तीन तलाक नीतीश ने क्या कहा?

तीन तलाक से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी खास तबके से संबंधित इस मुद्दे के लिए दखल करने की बजाए उनसे बातचीत करनी चाहिए. मुस्लिम समुदाय के लोगों को ही इन कमियों को दूर करने के लिए प्रेरित करना चाहिए. कोई प्रथा अगर उपयुक्त नहीं है तो उसके लिए समाज को प्रेरित करने की जरूरत है. कानून से परंपरा में हस्तक्षेप करने की जरुरत नहीं है.

यह भी पढ़े  आरक्षण पर गुमराह करने वालों की नहीं गलेगी दाल’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here