352वें प्रकाश पर्व का आज आखिरी दिन, मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारा में मत्था टेका

0
256
Patna-Jan.13,2019-Bihar Chief Minister Nitish Kumar is worshiping at Takht Harmandir Patna Saheb Gurudwara in Patna on the occasion of birth anniversary of Guru Govind Jee Maharaj during 352nd Prakash Parv.

352वें प्रकाशपर्व को लेकर पटना सिटी में उल्लास का माहौल है। 14 तक चलने वाले प्रकाश पर्व में देश के अलग-अलग हिस्से और विदेशों से भी सिख श्रद्धालु पहुंच रहे हैं।

पटना में 352वां प्रकाश पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है. गुरु गोविंद सिंह के जन्मोत्सव पर हर तरफ जश्न का माहौल है. इसी कड़ी में हजारों की संख्या में आज श्रद्धालु पटना सिटी स्थित तख्त हरमंदिर पटना साहिब पहुंचे. प्रकाश पर्व को लेकर पूरे पटना को रंग-बिरंगे लाइटों से सजाया गया है. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना सिटी स्थित गुरुद्वारा पहुंचे और गुरु गोविंद सिंह के दर पर मत्था टेका.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ भाजपा नेता नंदकिशोर यादव भी मौजूद रहे. सीएम नीतीश के आगमन को लेकर सुरक्षा के मुकम्मल व्यवस्था की गयी थी. नीतीश कुमार ने दीवान हॉल पहुंच कर मंच से गुरु लीलाओं के बारे में लोगों को जानकारी दी. उन्होंने गुरु की महिमा का बखान भी किया. इसके बाद वह लीला गुरुद्वारे की ओर बढ़ गये. 352वां प्रकाश पर्व के मौके पर श्रद्धालुओं की काफी भीड़ नजर आयी.

इस वर्ष 11 से 13 जनवरी तक प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है. पहली बार कंगन घाट में इस पर्व को लेकर थ्री स्टार स्विस कॉटेज बनाए गए हैं. यहां कुल 10 थ्री स्टार स्विस कॉटेज बनाए गए हैं, जिनमें श्रद्धालुओं के सुख-सुविधा का खास खयाल रखा गया है.

अग्निशमन में तीन डीएसपी रैंक के पदाधिकारी, चार फायर स्टेशन ऑफिसर, चार सब ऑफिसर, 60 फायर मैन स्पेशल बटालियन के जवान, चार मिस्ट टेक्नोलॉजी, तीन बड़े फायर टेंडर और 138 पोर्टेबल अग्निशमन यंत्र की व्यवस्था की गई है.

यह भी पढ़े  अब बिहार के हर घर को नल से मिलेगा शुद्ध पेयजल

प्रकाश पर्व को लेकर 3000 से अधिक जिला पुलिस बल की तैनाती की गई है. 205 टेंट सिटी का निर्माण कराया गया है. इसके 4200 से अधिक श्रद्धालुओं ने बुकिंग कराई है. पंजाब से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बिहार सरकार और पंजाब सरकार की ओर से दो स्पेशल ट्रेन चलाई गई है. श्रद्धालुओं के लिए पटना जंक्शन से कंगन घाट तक के लिए 20 से अधिक ई रिक्शा चलाए जा रहे हैं. तीन डोरमेटरी टेंट की भी व्यवस्था की गई है. डोरमेटरी में 500 से अधिक श्रद्धालुओं के विश्राम करने की व्यवस्था की गई है.

प्रकाश पर्व को लेकर 600 से अधिक वोलेंटियर्स को श्रद्धालुओं की सेवा में लगाया गया है. टेंट सिटी में लंगर की व्यवस्था की गई है, जहां श्रद्धालुओं को खाना परोसा जाता है. देश के अलग-अलग राज्यों से भारी संख्या में श्रद्धालुओं की सेवा करने के लिए सेवादार पहुंचे हैं. वहीं, टेंट सिटी में बच्चों के मनोरंजन के लिए झूला भी लगाए गए हैं. श्रद्धालुओं की बढ़ती भीड़ को देखते हुए हेल्प डेस्क और बिहार राज्य स्वास्थ समिति की ओर से पटना जिला समेत अन्य जिलों से कुल 80 एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है.

यह भी पढ़े  शराबबंदी पर नीतीश कुमार पड़े नरम, अब पहली बार पकड़े जाने पर जेल नहीं जुर्माना होगा

गुरु गोविंद सिंह महाराज के 352वें प्रकाश पर्व पर शुक्रवार को निकली बड़ी प्रभातफेरी में देश-विदेश से आए हजारों श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया। बोले सो निहाल, सतश्री अकाल के नारों व शबद कीर्तन से पूरा माहौल गूंज उठा। सुबह तख्त साहिब में अरदास के बाद पंज प्यारों की अगुवाई में बड़ी प्रभातफेरी निकली। शनिवार को गुुरुद्वारा गायघाट में अखंड पाठ व अरदास के बाद नगर कीर्तन निकलेगा। रविवार को तख्त साहिब में अखंड पाठ के समापन के बाद मुख्य समारोह होगा।

तख्त साहिब में विशेष दीवान, कवि दरबार
प्रकाश पर्व को लेकर जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह के संचालन में विशेष दीवान आरंभ हुआ है। अरदास, हुकूमनामा व कड़ाह प्रसाद का वितरण किया गया। फिर सजे दीवान में शबद कीर्तन भाई बिक्रम सिंह रागी जत्था, गुरु शबद विचार शिरोमणि सिख प्रचारक ज्ञानी रणजीत सिंह गौहर-ए-मस्कीन, शस्त्र दर्शन के साथ अन्य धार्मिक आयोजन के बाद कीर्तन चौकी बिलावल भाई रजनीश सिंह, भाई ज्ञान सिंह, भाई नविंदर सिंह ने की। शाम में कवि दरबार में अरदास, हुकुमनामा के बाद कथा गुरु इतिहास संत ज्ञानी गुरमीत सिंह जी खोशा कोटला ने पेश किया। कवि दरबार का उद्घाटन संत बाबा करमजीत सिंह यमुना नगर ने अरदास कर किया।

कंगनघाट के बीच जहाज का परिचालन शुरू

प्रकाश पर्व में आए श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए गायघाट से कंगनघाट के बीच जहाज की सेवा शुरू की गई है। उद‌्घाटन शुक्रवार को डीएम कुमार रवि ने किया। उन्होंने कहा कि इससे श्रद्धालुओं को तख्त साहिब तक आने व यहां से वापस लौटने की सुविधा मिलेगी। पानी का जहाज लिली, कंगनघाट से गायघाट तक सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक संगतों के लिए नि:शुल्क सेवा उपलब्ध कराएगा। दिनभर में संगत को चार ट्रिप लाने व चार ट्रिप ले जाने के लिए जहाज चलेगा। जिलाधिकारी ने बताया कि जहाज पर दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है। लाइफ जैकेट समेत अन्य सुविधाएं भी रहेंगी। हर ट्रिप में एसडीआरएफ की टीम बोट से जाएगी और आएगी। इस मौके पर डीएम ने संगत से पूछा कि यहां की व्यवस्था कैसी है। असम से पहली बार आईं मनप्रीत कौर ने कहा कि पहली बार यहां आए हैं। यहां की व्यवस्था काफी बेहतर है।

यह भी पढ़े  वामदलों की बैठक आज

शबद कीर्तन से संगत हुई निहाल

प्रकाश पर्व को लेकर शुक्रवार को निकली बड़ी प्रभातफेरी में देश-विदेश से आए हजारों श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया। शबद कीर्तन से पूरा माहौल भक्तिमय रहा। अहले सुबह तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह ने अरदास की। इसके बाद पंज प्यारों की अगुवाई में बड़ी प्रभातफेरी आरंभ हुई। आगे-आगे हाथी, ऊंट का काफिला चल रहा था। कीर्तनी जत्था शब्द कीर्तन करते शामिल हुए। प्रभातफेरी तख्त साहिब से निकल कर चमडोरिया, हाजीगंज, मोर्चा रोड, पटना साहिब स्टेशन के रास्ते चौकशिकारपुर, मंगल तालाब नई सड़क, सब्जी बाजार होते हुए तख्त साहिब लौटी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here