कांग्रेस हमेशा सवर्णो का वोट तो लेती रही मगर उन्हें आरक्षण नहीं दिया : मोदी

0
212
file photo

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद, कांग्रेस सहित यूपीए के तमाम घटक दल बतायें कि क्या वे सवर्णो को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के केन्द्र सरकार के निर्णय व कल संसद में आ रहे बिल का समर्थन करेंगे या विरोध। उन्होंने कहा कि 70 साल में 45 साल तक सत्ता में रहने वाली कांग्रेस हमेशा सवर्णो का वोट तो लेती रही मगर उन्हें आरक्षण नहीं दिया। जस्टिस सिन्हा समिति ने 2010 में ही सवर्णा को आरक्षण देने की अनुशंसा की थी मगर तत्कालीन मनमोहन सिंह की सरकार हिम्मत नहीं जुटा पाई।श्री मोदी ने कहा कि केन्द्र सरकार सामान्य वर्ग के ब्राrाण, राजपूत, भूमिहार व कायस्थ समाज के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण लागू करने के लिए बजाप्ता संविधान की धारा 14 व 15 में संशोधन कर आरक्षण की 50 प्रतिशत की सीमा को बढ़ा कर 60 प्रतिशत करने जा रही है, जबकि नरसिम्हा राव की सरकार ने बिना संविधान संशोधन के सामान्य वगरे को आरक्षण देने का महज नाटक किया था जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछड़ों के लिए पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा प्रदान किया वहीं सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम को पुनस्र्थापित किया। अब सामान्य वगरे के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का ऐतिहासिक फैसला किया है। केन्द्र की वर्तमान नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश के चहुंमुखी विकास के साथ समाज के सभी वगरे को साथ लेकर चलने की मिसाल कायम की है जिसका प्रमाण आज केन्द्रीय मंत्रिपरिषद द्वारा लिया गया निर्णय है। क्या कांग्रेस, राजद सहित तमाम यूपीए के घटक दल प्रधानमंत्री के इस निर्णय का स्वागत करेंगे।

यह भी पढ़े  योजनाओं का निचले स्तर तक हो अनुश्रवण : राज्यपाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here