विश्व बैंक ने सूबे की जीविका परियोजना को किया पुरस्कृत

0
232
FILE PHOTO

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार की जीविका परियोजना को विश्व बैंक के अध्यक्ष द्वारा ‘‘ इनोवेटिवऑफ दी इयर, 2018‘‘ के लिए पुरस्कृत किया गया है। पूरे विश्व में विश्व बैंक के सहयोग से चल रही 185 परियोजनाओं में से जीविका सहित 9 अन्य परियोजनाओं का पुरस्कार हेतु चयन किया गया है।वाशिंगटन स्थित विश्व बैंक के मुख्यालय में विश्व बैंक के दक्षिण एशिया के अध्यक्ष हार्टविग स्कैफर ने बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के साथ बिहार की परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान इस तरह की जानकारी दी। श्री हार्टविग ने बताया कि जीविका का प्रयोग नाइजिरिया, कांगो, कम्बोडिया जैसे मुल्कों में भी किया जाएगा। ज्ञातव्य है कि विश्व बैंक पूरे भारत में सर्वाधिक लगभग 8 हजार करोड़ बिहार के पंचायत सरकार भवन, मुख्यमंत्री ग्राम सम्पर्क योजना, बिहार कोशी पुनस्र्थापन, शिक्षक प्रशिक्षण, समाज कल्याण विभाग की बुनियाद संजीवनी सेवा, जीविका जैसे 6 विभागों के लिए ऋण प्रदान कर रहा है। विश्व बैंक ने जीविका के तहत 90 लाख परिवारों को 8 लाख से ज्यादा स्वयं सहायता समूह में संगठित कर बैंकों से 6 हजार करोड़ से ज्यादा के ऋण लेकर महिलाओं के सशक्तीकरण की प्रशंसा की और कहा कि बिहार के जीविका मॉडल को दुनिया के अन्य देशों में भी विस्तारित किया जाएगा। विश्व बैंक ने बिहार में चल रही विश्व बैंक सम्पोषित योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की और आास्त किया कि वह बिहार को विकास के लिए और अधिक ऋण देने के लिए तैयार है।

यह भी पढ़े  कांग्रेस 25 करोड़ लोगों को 72 हजार रुपये सालाना देगी :राहुल गांधी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here