सत्र को लेकर सख्त रहेगी विधानसभा परिसर की सुरक्षा व्यवस्था

0
225
PATNA VIDHAN SABHA SATRA KE PURB VIDHAN SABHA PAREESAR MEIN DM SSP ADHIKARIYON AND POLICE KERMIYON KO SAMBODHIT KERTE

बिहार विधानसभा परिसर में आगामी बिहार विधानसभा एकादश सत्र में प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों का मॉक ड्रिल हुआ। सत्र को लेकर पूरे विधानसभा क्षेत्र को सुरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया है। सभी थाना को अलर्ट किया गया है। विधानसभा के चारो तरफ एवं शहर में सीसीटीवी लगाये गये हैं। इस मौके पर जिलाधिकारी कुमार रवि ने प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों को कहा कि नियमों का कड़ाई से पालन किया जाये। आगंतुकों के साथ सौम्यता प्रदर्शित की जाये। कंट्रोल रूम से निगरानी की जायेगी। पत्रकारों के लिए मुख्य पंडाल की व्यवस्था की गई है। मीडिया कवरेज में कोई कठिनाई न हो इसे ध्यान में रखा जाये। सभी दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को विधि-व्यवस्था एवं सुरक्षा के दृष्टिकोण से प्रतिनियुक्ति किया गया है। सुरक्षा के मानकों का प्रयोग करें। विधानसभा गेट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पेट्रोलिंग टीम को सतर्क रहना होगा। सभी गेटों पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी तथा पुलिस बल को चुस्त-दुरुस्त रहना होगा। संयुक्त ब्रीफिंग के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि प्रतिबंधित क्षेत्र में किसी प्रकार का प्रदर्शन या सभा का आयोजन नहीं किया जाये। प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि पुलिस बल/ पुलिस पदाधिकारी एवं दंडाधिकारी 26 नवम्बर, 2018 को प्रात: 09 बजे एवं आगे प्रतिदिन विधानमंडल की कार्यवाही शुरू होने के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें। सुरक्षा के दृष्टिकोण से विधानसभा भवन के पीछे का प्रवेश द्वार सत्रावधि तक बंद रहेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्व में हमेशा ऐसा अनुभव रहा है कि कुछ अनधिकृत व्यक्ति सदस्यों के साथ कार में बैठकर विधान मंडल परिसर में आ जाते हैं, जिन्हें बाद में बाहर करने में काफी कठिनाई होती है। विधान मंडल परिसर के मुख्य द्वार पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी विधान मंडल के सुरक्षाकर्मी इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि सदस्य की कार में बैठकर सिर्फ पास होल्डर ही अंदर आयें। कोई अनधिकृत व्यक्ति विधान मंडल परिसर में प्रवेश नहीं करे। जिलाधिकारी ने कहा कि विधान मंडल भवन के मुख्य द्वार पर सदस्यों को पहचानने एवं आगंतुक की चेकिंग की जिम्मेवारी विधानमंडल के सुरक्षा प्रभारी की होगी। विधान मंडल नियंतण्रकक्ष एवं गर्दनीबाग धरना स्थल के लिए नियंतण्रकक्ष के पास दूरभाष की व्यवस्था नजारत उप समाहर्ता द्वारा की जा रही है। विधान मंडल नियंतण्रकक्ष एवं गर्दनीबाग धरना स्थल नियंतण्रकक्ष में सभी आवश्यक उपकरणों, दवाइयों, चिकित्सक एवं चिकित्सा दल के साथ एम्बुलेंस की व्यवस्था सिविल सर्जन, पटना द्वारा की जायेगी। जिला अग्निशाम पदाधिकारी, पटना द्वारा विधान मंडल नियंतण्रकक्ष एवं गर्दनीबाग धरना स्थल के लिए एक-एक फायर टेंडर एवं पोर्टेबल अग्निशाम यंत्र की व्यवस्था करेंगे। गर्दनीबाग धरना स्थल के पास पीने के पानी एवं फ्लड लाइट की व्यवस्था नजारत उप समाहर्ता द्वारा की जायेगी। ब्रीफिंग के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि आवश्यकतानुसार प्रदर्शनकारियों के शिष्टमंडल को मुख्यमंत्री/ विभिन्न मंत्रियों या अध्यक्ष, विधान सभा/ सभापति, बिहार विधान परिषद् से भेंट कराने की व्यवस्था दंडाधिकारी पुलिस बल के संरक्षण में गर्दनीबाग धरना स्थल नियंतण्रकक्ष में प्रतिनियुक्त वरीय दंडाधिकारी द्वारा की जाएगी। इसके लिए गर्दनीबाग धरना स्थल नियंतण्रकक्ष में एक छोटे वाहन की व्यवस्था प्रभारी दंडाधिकारी, जिला नियंतण्रकक्ष द्वारा की जायेगी। उन्होंने कहा कि विधान मंडल नियंतण्रकक्ष एवं गर्दनीबाग धरना स्थल की वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई है। अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सदर बिहार विधान मंडल के सत्रावधि में बिहार विधान मंडल परिसर एवं आस-पास के क्षेत्र में पूर्व की तरह विधि-व्यवस्था संधारण के लिए एहतियात के तौर पर धारा-144 दंप्रसं के अंतर्गत ससमय निषेधज्ञा लागू करेंगे। वरीय पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने दंडाधिकारियों, पुलिस बल एवं पुलिस पदाधिकारियों को संबांधित करते हुए कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान प्रतिनियुक्त पुलिस बल के सदस्य मोबाइल फोन साथ नहीं लायेंगे। अगर मोबाइल फोन साथ लाते हैं तो उनके मोबाइल का स्विच ऑफ रहेगा या साइलेंट में रहेगा। ग्रुप में प्रतिनियुक्त सिपाहियों का जमावड़ा नहीं रहेगा। कर्तव्य पर प्रतिनियुक्त सिपाहियों को विनम्र या दीर्घ संकल्पित रहना है। अपने कर्तव्यों का निर्वहन पूर्ण तत्परता एवं मुस्तैदी से करें। प्रत्येक दिन एंटी सबोटेज जांच होगी। हर जगहों पर चेकिंग होगा। अगर संदिग्ध व्यक्ति या वस्तु दिखाई दे तो तुरंत वरीय पदाधिकारी को सूचित करें। यातायात की विशेष व्यवस्था पुलिस अधीक्षक, यातायात के द्वारा की जायेगी। इस अवसर पर नगर पुलिस अधीक्षक डी. अमरकेश, अपर जिला दंडाधिकारी, विधि-व्यवस्था कृष्ण कन्हैया प्रसाद सिंह, अपर जिला दंडाधिकारी, सामान्य आशुतोष कुमार वर्मा, अपर समाहर्ता वजैन उद्दीन अंसारी, जिलाधिकारी के विशेष कार्य पदाधिकारी रजनीकांत सहित प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  फिर प्रगाढ़ होने लगी भाजपा-जदयू की दोस्ती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here