विधानसभा की बहाली में नहीं होगी धांधली : चौधरी

0
229
PATNA VIDHAN SABHA MEIN AYOJIT MEETING KO SAMBODHIT KERTE VIDHAN SABHA SPEAKER VIJAY CHAODHRY

बिहार विधानसभा में बहाली को लेकर बराबर धांधली की शिकायतें मिलती रहती हैं। इसे लेकर विरोधी भी सरकार पर निशाना साधते रहे हैं। विधानसभा से लेकर विधान परिषद में इसे लेकर आवाजें उठती रही हैं। अब इसे लेकर शुक्रवार को बिहार विधानसभा के स्पीकर विजय कुमार चौधरी ने कहा कि विधानसभा में होने वाली बहाली को लेकर सरकार पूरी तरह चौकस है। किसी तरह की धांधली नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इस बहाली में अगर किसी तरह की धांधली की बात सामने आती है, तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा। गौरतलब है कि बिहार विधानसभा में आठ विभिन्न श्रेणियों में रिक्त पदों पर बहाली होनी है। ऐसे में बिहार की अन्य नौकरियों की परीक्षा और बहाली की तरह ही धांधली की बात कही जा रही है। इसी को लेकर विस के स्पीकर विजय कुमार चौधरी ने कहा कि अगर धांधली की कोई बात सामने आती है, तो इस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि जो भी इस बारे में जानकारी देगा उसको सम्मानित किया जाएगा। बिहार विधानसभा सचिवालय में बहाली को लेकर नोटिफिकेशन भी सामने आया है।
 बिहार विधान सभा के सत्र के सुचारु संचालन के लिए विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी की अध्यक्षता में बिहार सरकार के वरीय पदाधिकारियों की एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित हुई। बैठक में मौजूद वरीय पदाधिकारियों को बिहार विधानसभा परिसर एवं आस-पास की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखते हुए सभी अन्य व्यवस्थाओं को ससमय दुरुस्त करने का निर्देश भी उनके द्वारा दिया गया । उन्होंने बिहार विधान सभा सचिवालय द्वारा सदस्यों के प्रश्नों का उत्तर विभिन्न विभागों से ऑनलाइन उपलब्ध कराये जाने के संबंध में अपनायी गयी व्यवस्था का विस्तार से वर्णन किया। इस कार्य हेतु विभिन्न विभागों के मौजूद प्रतिनियुक्त नोडल पदाधिकारियों से उन्होंने ब्योरा मांगा । सभा सचिवालय द्वारा ऑनलाइन बिहार सरकार के ग्रामीण कार्य विभाग, शिक्षा विभाग, ऊर्जा विभाग, स्वास्य विभाग, आपदा प्रबंध विभाग, जल संसाध न विभाग, कला, संस्कृति एवं युवा विभाग तथा लघु जल संसाध विभाग को भेजे गये प्रश्नों में से अब तक एक भी प्रश्न का उत्तर ऑनलाइन सभा सचिवालय को उपलब्ध नहीं कराये जाने पर अध्यक्ष द्वारा कड़ी नाराजगी जाहिर की गयी तथा उन्होंने मौके पर मौजूद विकास आयुक्त का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराते हुए इसके अनुश्रवण करने का निर्देश भी दिया। नोडल पदाधिकारियों के इस उदासीन रवैये पर हैरत जताते हुए अध्यक्ष ने उन्हें कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि वे सब इस कार्य को अति गंभीरता एवं संवेदनशीलता से जिम्मेवारीपूर्वक करें ताकि सदन में प्रश्नों का निस्तारण तेजी से हो सके। इससे सदन में विमर्श की सार्थकता बढ़ेगी। सदन में जनहित के कायरे में और तेजी आने पर हमारा लोकतंत्र और मजबूत होगा। उन्होंने इस मौके पर ग्रामीण कार्य विभाग, शिक्षा विभाग सहित अन्य कई विभागों के नोडल पदाधिकारियों की अनुपस्थिति को गंभीरता से लिया और सभी नोडल पदाधिकारियों को सदन से संबंध्ति कार्य तत्परतापूर्व करने का निर्देश भी दिया। उन्होंने सभी विभागों के नोडल पदाधिकारियों को ऑनलाइन प्रश्नों के उत्तर उपलब्ध कराने संबंधी अद्यतन रिपोर्ट से सभा सचिवालय के सचिव को अवगत कराने का निर्देश दिया । इस बैठक के दौरान बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारूण रशीद, संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार, बिहार विधान सभा के सचिव बटेवर नाथ पाण्डेय एवं बिहार विधन परिषद् के सचिव सुनील कुमार पंवार भी मौजूद थे । इसमें बिहार के विकास आयुक्त अरूण कुमार सिंह, दीपक कुमार सिंह, प्रधान सचिव, श्रम संसाधन विभाग, अपर पुलिस महानिदेशक भी मौजूद थे । सभी दलों के नेता प्रश्नकाल बाधित नहीं होने दें : अध्यक्ष पटना। बिहार विधानसभा के एकादश सत्र के सुचारु रूप से संचालन के लिए बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी की अध्यक्षता में बिहार विधान सभा के दलीय नेताओं की एक बैठक आयोजित हुई। उन्होंने इस बैठक में उपस्थित दलीय नेताओं से शीतकालीन सत्र के निर्बाध एवं सुचारु संचालन तथा सदन में सार्थक विमर्श हेतु सबके सहयोग की अपेक्षा की । उन्होंने कहा कि सभी दलों से अनुरोध किया कि जनहित में कम से कम प्रश्नकाल को बाधित नहीं किया जाना चाहिए, ताकि जन समस्याओं के निराकरण में सदन में सरकार सहित सभी सदस्य अपनी महती भूमिका निभा सकें। इस बैठक के दौरान अध्यक्ष द्वारा किये गये आग्रह के आलोक में उपस्थित सभी दलीय नेताओं ने सर्वसम्मति से सदन चलाने पर अपनी सहमति प्रदान की । इस बैठक में मंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव, अरूण कुमार सिन्हा, उप मुख्य सचेतक, सत्तारूढ़ दल, बिहार विधान सभा, राजद की ओर से अब्दुल बारी सिद्दिकी, भाकपा माले की ओर से महबूब आलम तथा बटेवर नाथ पाण्डेय, सचिव, बिहार विधान सभा भी मौजूद थे । नौकरी दिलाने के नाम पर ठगने वालों की पहचान कराने वाले होंगे पुरस्कृत बिहार विधानसभा में बहाली को लेकर ठगी करने वाले गिरोह की पहचान कराने पर उन्हें पुरस्कृत किया जायेगा। यह पुरस्कार विधानसभा की ओर से प्रदान किया जायेगा। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य के कई जिलों से विधान सभा सचिवालय को विधानसभा में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने सूचना मिल रही है। कई ठग गिरोह तो विधानसभा अध्यक्ष के रिश्तेदार बताकर राशि उगाही कर रहे हैं। अध्यक्ष ने कहा कि बहाली प्रक्रिया में कहीं से विधानसभा सचिवालय अथवा अध्यक्ष की कोई भूमिका नहीं है। सब एजेंसी के माध्यम से कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भर्ती नियमावली में परिवर्तन कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सहायक के 70 पद के विरुद्ध एक लाख 68 हजार, कनीय अभियंता के 07 पद के विरुद्ध 70 हजार, प्रतिवेदक के 55 पदों के विरुद्ध 06 हजार 379 तथा ग्रुप डी के 140 पदों के विरुद्ध 05 लाख आवेदन मिले हैं।

यह भी पढ़े  आयुष्मान कार्ड धारकों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं : चौबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here