समस्याओं के समाधान को जेपी सेनानियों ने सीएम को लिखा पत्र

0
277
PATNA I T O JP PERTIMA SATHAL PERJ P LOKTANTRA SENANI SANGATHAN KA PERDERSHAN

जेपी लोकतंत्र सेनानी संगठन ने जेपी सेनानी सम्मान पेंशन राशि में वृद्धि करने समेत विभिन्न समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। 4 नवम्बर 1974 को राजभवन मार्च के दौरान आयकर गोलंबर के समीप जेपी पर हुए लाठीचार्ज की याद में काला दिवस मनाया। सूबे के विभिन्न जिलों से पटना जुटे सैकड़ों जेपी सेनानियों ने हाथ में तिरंगा झंडा लेकर मौन स्मरण मार्च निकाला और 10 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचे। लेकिन पुलिस रास्ते में सेनानियों को हिरासत में लेकर कोतवाली थाने ले गयी। थाना में भी सेनानी मुख्यमंत्री से मिलने की जिद पर अड़े रहे। बाद में पुलिस वाहन से छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को सीएम हाउस ले जाया गया। वहां मुख्यमंत्री के ओएसडी उनसे मिले और ज्ञापन लेकर मुख्यमंत्री को अवगत कराने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधिमंडल में नरेन्द्र सिंह कुशवाहा, उपेन्द्र कुमार जायसवाल, अरुण पाठक, मुकुल कुमार सिंह, परमानंद सिंह, राय सुंदरदेव शर्मा और सुरेन्द्र ठाकुर शामिल थे। मुख्यमंत्री को दिए गए ज्ञापन में भ्रष्टाचार, शिक्षा व्यवस्था में सुधार और महंगाई जैसे जेपी आंदोलन के मुद्दों पर प्रभावी समाधान,जेपी सेनानी पेंशन योजना को विधानमंडल से पारित कराने, सम्मान पेंशन में भेदभाव समाप्त करने, अन्य धाराओं में आंदोलन के दौरान बंदी बनाए गए सेनानियों को भी योजना में शामिल करने, अन्य राज्यों की तरह बिहार में भी सम्मान पेंशन और सुविधाएं देने की मांग की गयी। दोपहर साढ़े बारह बजे जेपी सेनानियों ने आयकर गोलंबर स्थित जेपी प्रतिमा पर मल्यार्पण किया। इस दौरान जेपी सेनानी इस बात से आक्रोशित थे कि आज ऐतिहासिक काले दिन को सरकार चला रहे जेपी सेनानी भूल गए।

यह भी पढ़े  आज हो रहे मतदान में राधामोहन समेत कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here