विशेष राज्य का दर्जा देना आयोग के क्षेत्राधिकार में नहीं ’ वित्त आयोग की टीम

0
162
Patna-Oct.3,2018-15th Finance Commission chairman N.K. Singh is holding meeting with representatives of political parties at Main Secretariat in Patna.

वित्त आयोग ने कहा कि विशेष राज्य का दर्जा देना उसके क्षेत्राधिकार में नहीं आता है। आयोग ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने से इंकार कर दिया है। मुख्यमंत्री सचिवालय में बुधवार को वित्त आयोग की टीम ने सभी राजनीतिक दलों के साथ बैठक की। बैठक में प्रदेश कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जदयू, भाजपा, बहुजन समाज पार्टी, रालोसपा, लोजपा, हम, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी) एवं राजद के प्रतिनिधि मंडल ने भाग लिया। बैठक के बाद वित्त आयोग के प्रमुख एनके सिंह ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल सकता। लेकिन हरसंभव मदद की कोशिश की जाएगी ताकि बिहार जल्द ही विकसित राज्य बन सके। बिहार को सहानुभूतिपूर्वक और सकारात्मक सोच के साथ मदद की जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लंबे समय से बिहार को विशेष दर्जा देने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने इस मांग को जदयू का पॉलिटिकल एजेंडा भी बनाया। लेकिन वित्त आयोग ने यह साफ कर दिया कि इस मांग को नहीं माना जा सकता। वित्त आयोग ने बिहार में विकास की गति की तारीफ की। आयोग की टीम ने कहा कि प्रति व्यक्ति आय समेत कई मामले में पीछे रहने के बावजूद बिहार ने कई क्षेत्रों में अच्छी तरक्की की है। बिहार की प्रगति से देश के पिछड़े राज्य बहुत कुछ सीख सकते हैं। 15वें वित्त आयोग की टीम चार दिवसीय दौरे पर बिहार आयी। एनके सिंह की अध्यक्षता में टीम के सचिव समेत 21 अन्य सदस्यों ने राज्य सरकार और अन्य संगठनों-संस्थाओं से बात की। वित्त आयोग को राज्य सरकार और विभिन्न संस्थाओं और राजनीतिक दलों की ओर से अलग-अलग ज्ञापन सौंपा गया था जिसमें बिहार को विशेष राज्य का दर्जा के प्रस्ताव के साथ-साथ प्रधानमंत्री के विशेष पैकेज के बारे में भी र्चचा की गयी थी।

यह भी पढ़े  राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने दी ईद-ए-मीलाद उन-नबी की बधाई , आज सीएम करेंगे चादरपोशी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here