Asian Games 2018: भारत ने सबसे अधिक मेडल जीतने का रिकॉर्ड तोड़ा, अब तक 63 जीते

0
264

भारत ने 18वें एशियन गेम्स के 13वें दिन यानी शुक्रवार को एक सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल जीत लिए हैं. इसके साथ ही उसने अपने मेडल की संख्या 64 पहुंचा दी है. उसे हॉकी, स्क्वॉश और बॉक्सिंग में कम से कम तीन मेडल मिलने तय हैं. यानी उसके 66 मेडल पक्के हो चुके हैं. वह अभी 13 गोल्ड समेत 64 मेडल के साथ टैली में आठवें नंबर पर है.

भारत ने एशियन गेम्स के 67 साल के इतिहास में सबसे ज्यादा मेडल 2010 में जीते थे. उसने तब ग्वांगझू गेम्स में 14 गोल्ड समेत कुल 65 मेडल जीते थे. उसका इस बार यह आंकड़ा पार करना तय है. वह अब तक 13 गोल्ड समेत 64 मेडल जीत चुका है. भारत की महिला हॉकी टीम, महिला स्क्वॉश टीम और बॉक्सर अमित फाइनल में पहुंच चुके हैं. इसके अलावा पुरुष हॉकी टीम भी ब्रॉन्ज मेडल की रेस में है.

सबसे अधिक 15 गोल्ड का रिकॉर्ड भी तोड़ने का मौका
भारत ने 1951 के एशियन गेम्स में 15 गोल्ड समेत 51 मेडल जीते थे. हमें इसके बाद से कभी भी 15 गोल्ड नहीं मिले हैं. भारत इस बार अब तक 13 गोल्ड जीत चुका है. उसकी महिला हॉकी टीम, महिला स्क्वॉश टीम और बॉक्सर अमित फाइनल में पहुंच चुके हैं. यानी, भारत के पास इस बार सबसे अधिक गोल्ड जीतने का रिकॉर्ड बनाने का भी मौका है.

यह भी पढ़े  वर्ल्ड कप 2019: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाल करने वाले धवन चोट के कारण हुए बाहर

महिलाओं के इवेंट में मिले 25 मेडल
भारत ने जो 64 गोल्ड जीते हैं, उनमें से 25 महिला खिलाड़ियों ने दिलाए हैं. पुरुषों के इवेंट में 34 मेडल मिले हैं. बाकी चार मेडल मिक्स्ड इवेंट में मिले हैं. गोल्ड की बात करें तो पुरुष खिलाड़ियों ने 9 और महिला खिलाड़ियों ने 4 गोल्ड जीते हैं.

सबसे अधिक 19 मेडल एथलेटिक्स में जीते
भारत ने मौजूदा एशियन गेम्स में सबसे अधिक गोल्ड और मेडल एथलेटिक्स में जीते हैं. उसे एथलेटिक्स में 7 गोल्ड और 19 मेडल मिले हैं. भारत से ज्यादा गोल्ड चीन (12 गोल्ड समेत 33 मेडल) और बहरीन (12 गोल्ड समेत 25 मेडल) ही जीत सके हैं. भारत अपने एथलीटों के प्रदर्शन की बदौलत ही रिकॉर्ड तोड़ने की स्थिति में पहुंचा है.

शूटिंग और कुश्ती में दो-दो गोल्ड
भारत के लिए एथलेटिक्स के बाद दूसरा सबसे कामयाब खेल शूटिंग रहा है. भारत को इसमें दो गोल्ड समेत 9 मेडल मिले हैं. भारत ने कुश्ती में भी दो गोल्ड समेत तीन मेडल मिले हैं. इसके अलावा एक-एक गोल्ड टेनिस और रोइंग में मिले हैं.

यह भी पढ़े  फीफा वर्ल्ड 2018 : इंग्लैंड को मात देकर पहली बार फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here