25 नवम्बर को होने वाली ‘‘‘‘पटना मैराथन’’ की तैयारियों की समीक्षा बैठक

0
396
file photo Patna Divisional Commissioner Anand Kishore is holding meeting with DM, SSP and officials for Patna Marathon at Commissioner’s conference hall in Patna.

25 नवम्बर को होने वाली ‘‘‘‘पटना मैराथन’’ की तैयारियों के संबंध में प्रमंडलीय आयुक्त ने आज समीक्षा बैठक की। पिछले साल हुई हाफ मैराथन की सफलता को ध्यान में रखते हुए इस साल फुल मैराथन आयोजित करने का निर्णय लिया गया। ‘‘पटना मैराथन’ राष्ट्रीय स्तर पर अगल पहचान बना सके इसके लिए भी प्रशासन प्रयास करेगा। प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर ने बताया कि इस मैराथन, 2018 में भाग लेने वाले प्रतिभागियों का निबंधन 16 अगस्त से 30 अक्टूबर तक कराया जा सकता है।‘‘पटना मैराथन’ 2018 के अंतर्गत चार श्रेणियों में दौड़ का आयोजन किया जायेगा।चार किमी की दौड़, यह दौड़ गाँधी मैदान गेट नं.एक से शरू होकर आयकर गोलम्बर से यू-टर्न लेकर वापस गांधी मैदान के गेट नं-एक पर समाप्त होगी। 10 किमी की दौड़, यह दौड़ गाँधी मैदान गेट गेट नं-01से शरू होकर कपरूरी गोलम्बर, इको पार्क के पास से यू-टर्न लेकर वापस गाँधी मैदान के गेट नं-एक पर समाप्त होगी। 21.1 किमी की दौड़, गाँधी मैदान, पटना के गेट नं-एक से शरू होकर ईको पार्क, राज भवन, बेली रोड होते हुए राजा बाजार फ्लाई ओभर के ऊपर से होते हुए तथा उसके अंत तक वहाँ से यू-टर्न लेकर वापस गाँधी मैदान के गेट नं-एक पर समाप्त होगी । 42.2 किमी की दौड़, गाँधी मैदान, पटना के गेट नं-एक से शरू होकर ईको पार्क, राज भवन, बेली रोड होते हुए राजा बाजार फ्लाई ओभर के ऊ पर से होते हुए तथा उसके अंत तक वहां से यू-टर्न लेकर वापस गाँधी मैदान के गेट नं-एक से पुन: इको पार्क राज भवन बेली रोड होते हुए राजा बाजार फ्लाई ओभर के ऊपर से होते हुए गाँधी मैदान के गेट नं-एक पर समाप्त होगी । आयुक्त ने पुलिस अधीक्षक, यातायात, पटना को निर्देश दिया कि मैराथन के दौरान मार्ग में रूट लाईनिंग कराया जाना आवश्यक है। जिला परिवहन पदाधिकारी, पटना मैराथन के आयोजक से समन्वय कर रूट लाईनिंग कराना सुनिश्चित करेंगे। आयुक्त ने सिविल सर्जन, पटना को निदेश दिया कि वे पटना मैराथन के दिन 10 मेडिकल टीम तथा 10 एम्बुलेंस की व्यवस्था आवश्यक चिकित्सीय उपकरणों तथा पारा मेडिकल कर्मी सहित करें। इसके अतिरिक्त, पटना मैराथन के आयोजक द्वारा भी मेडिकल फैसिलिटीज उपलब्ध कराने हेतु 10 डाक्टर, 25 नर्स, 32 फिजियोथेरापिस्ट तथा 5 एम्बुलेंस की व्यवस्था आवश्यक चिकित्सीय उपकरणों सहित की जायेगी। आयुक्त ने नगर आयुक्त को निदेश दिया कि मैराथन के लिए 12 मोबाईल शौचालय तथा 30 यूरिनल लगाने की व्यवस्था की जाये। इसके अतिरिक्त, पटना मैराथन के आयोजक द्वारा भी विभिन्न स्थानों पर कुल 20 पोर्टेबल बायोटॉयलेट्स लगाये जायेंगे। कार्यपालक अभियंता, पीएचई़डी को निदेश दिया गया कि वे मैराथन रूट में 03 मोबाईल टॉयलेट तथा 10 वाटर एटीएम लगाना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही पटना नगर निगम द्वारा भी 03 मोबाईल टॉयलेट लगाया जायगा। इसके अतिरिक्त, पटना मैराथन के आयोजक कम्पनियों द्वारा भी गाँधी मैदान में 20 मोबाईल टॉयलेट लगाया जाय तथा 20 साधारण टॉयलेट एवं 20 यूरिनल बनाया जाय।आयुक्त द्वारा कार्यपालक अभियंता,पीएचई़डी को निदेश दिया गया कि वे 5 वाटर ए़टी़एम. की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। साथ ही मैराथन के आयोजक को भी मैराथन मार्ग में कम से कम 12 स्थानों पर वाटर स्टेशन के साथ-साथ खाने-पीने की सामग्री यथा फल, जूस आदि सहित बनाने का निदेश दिया गया है। आयुक्त द्वारा मैराथन के आयोजक को निदेश दिया गया कि सुरक्षा के दृष्टिकोण से पूरे मैराथन मार्ग में सीसीटीवी की व्यवस्था की जाय। आयुक्त ने निदेश दिया कि ‘‘‘‘पटना मैराथन’’ में भाग लेने हेतु राज्य के विभिन्न संस्थानों को अनुरोध पत्र भेजा जाये।

यह भी पढ़े  बिहार में बिछेगी‘‘अतिपिछड़ा’राजनीति की बिसात!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here