अक्टूबर तक हर घर में बिजली : नीतीश

0
241
Patna-Aug.10,2018-Bihar Chief Minister Nitish Kumar is honouring assistant engineers after inaugurating various development works at Vidyut Bhawan in Patna.

इस वर्ष अक्टूबर तक प्रदेश में हर घर में बिजली पहुंच जायेगी। सरकार ने दिसम्बर तक हर घर में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा था, लेकिन इसके पहले ही योजना पूरी कर ली जायेगी। इसके अलावा प्रदेश में जर्जर हो चुके बिजली के तारों को कम से कम समय में बदला जायेगा।यह घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को राजधानी पटना के विद्युत भवन में आयोजित कार्यक्रम में की। इससे पहले मुख्यमंत्री ने रिमोट कंट्रोल के माध्यम से 7522.38 करोड़ रपए की योजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन एवं लोकार्पण किया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, उर्जा मंत्री विजेन्द्र यादव समेत तमाम अधिकारी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्युत विभाग के काम से बिहार के लोग संतुष्ट हैं। घर-घर बिजली पहुंचाने को लेकर विभाग अच्छा काम कर रहा है। बिहार को पहले केवल 700 मेगावाट बिजली मिलती थी। उतनी बिजली में ही रेलवे और नेपाल को भी आपूत्तर्ि होती थी। मुख्यमंत्री ने विभाग को यह सुझाव दिया कि ऐसी व्यवस्था की जाये, ताकि उपभोक्ताओं को समय पर और सही बिजली का बिल मिल सके। इसमें लेटलतीफी नहीं हो। यह स्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिये कि बिजली बिल में सुधार कराने के लिए लोगों को दौड़ना पड़े। उन्होंने यह भी कहा कि अब स्पट बिलिंग की सुविधा लोगों को मिल रही है। पिछले साल बिजली से करीब 8000 करोड़ की वसूली हुई है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने विद्युतीकरण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अभियंताओं, विभिन्न ऊर्जा एजेंसियों के अध्यक्ष एवं पदाधिकारियों को सम्मानित किया। इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि अब हर घर में बिजली मिल रही है। 140 साल बाद पूरे बिहार में लोगों को इस तरह की बिजली मिली है। उन्होंने कहा कि 15 सितंबर से प्रीपेड मीटर चालू हो रहा है। इसकी शुरुआत पटना से होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कांटी, नवीनगर एवं बरौनी विद्युत तापघरों को एनटीपीसी को सुपुर्द कर चुकी है। हमारी सरकार पर्यावरण एवं प्ऱति के संरक्षण के प्रति सतर्क है। लखीसराय के कजरा में 250 मेगावाट के उत्पादन एवं भागलपुर के पीरपैंती में 235 मेगावाट के उत्पादन के लिए सौर ऊर्जा पार्क का निर्माण कराया जा रहा है।

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 15 सितम्बर से पटना के 5.10 लाख घरों तथा अगले डेढ़ साल में राज्य के 18 लाख घरों में बिजली के प्री पेड मीटर लगा दिए जायेंगे। इसे मोबाइल एप्पलिकेशन से रिचार्ज किया जा सकेगा। उर्जा विभाग की ओर से विद्युत भवन परिसर में आयोजित योजनाओं के शिलान्यास, उद्घाटन व लोकार्पण समारोह को सम्बोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि राज्य सरकार ने बरौनी, कांटी व नवीनगर पॉवर प्लांट को एनटीपीसी को सौंप दिया है। इससे राज्य सरकार को प्रतिवर्ष ु 875 करोड़ की बचत होगी। मार्च, 2019 तक खेती के लिए अलग फीडर से बिजली दी जायेगी। इसके कारण जहां डीजल पर किसानों की निर्भरता खत्म होगी वहीं उत्पादन लागत में कमी आएगी और किसानों की आमदनी बढ़ेगी।राज्य के 39,073 गांवों और 1 लाख 6 हजार टोलों में बिजली पहुंच गयी है। वर्ष 2012 में जहां बिजली उपभोक्ताओं की संख्या 37.88 लाख थी वहीं इस वर्ष जुलाई तक बढ़ कर 127.20 लाख होगयी हैं तथा वर्ष 2017-18 में 8000 करोड़ की राजस्व प्राप्ति हुई है जो पिछले वर्ष से 38 प्रतिशत अधिक है।हर घर बिजली (सौभाग्य) योजनान्तर्गत 32.23 लाख इच्छुक परिवारों में से 20.26 लाख को विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराया जा चुका है। शेष परिवारों को इस साल दिसम्बर तक कनेक्शन देने का लक्ष्य है।

 

यह भी पढ़े  हत्या के विरोध में बंद रहीं बाकरगंज की दुकानें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here