यमन: सऊदी अरब के नेतृत्व वाली सेना को हूती विद्रोहियों ने दी ‘मात’, वापस छीना हुदयदाह एयरपोर्ट

0
280

सऊदी अरब के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना की मदद से सरकारी बलों ने यमन के हुदयदाह शहर में एयरपोर्ट पर कब्जा कर लिया था, लेकिन इसके कुछ ही घंटे बाद, हूती विद्रोहियों ने रविवार को इस पर दोबारा कब्जा कर लिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सैकड़ों की संख्या में हूती मिलीशिया ने शनिवार रात भीषण संघर्ष के बाद सरकारी सैनिकों को वापस लौटने के लिए मजबूर कर दिया। सैनिक एयरपोर्ट के दक्षिण और पूर्व हिस्से से वापस चले गए। इस रणनीतिक शहर को घेरने के लिए सरकार की तरफ से शुरू किए गए हमले के पांचवें दिन यह घटना घटी है। यह शहर देश को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति का एक मुख्य प्रवेश द्वार है।

सऊदी अरब नीत गठबंधन के समर्थन वाले यमनी बलों ने शनिवार को कहा था कि उन्होंने हुदयदाह शहर के एयरपोर्ट को हूती विद्रोहियों से मुक्त करा लिया है। सेना ने अपने बयान में कहा था, ‘सेना की इकाई ने विद्रोहियों द्वारा लगाए गए विस्फोटक यंत्रों को हटाना शुरू कर दिया है।’ हूती के प्रवक्ता मोहम्मद अब्देल सलाम ने ट्वीट किया था कि उनके लड़ाकों को वहां से हटाना एक सामरिक रणनीति है और इसके परिणामस्वरूप किराए के सैनिकों ने एयरपोर्ट में प्रवेश किया है। उन्होंने कहा था कि उनके लड़ाकों ने यमन के राष्ट्रपति अब्दरब्बू मंसूर हादी के अंतर्राष्ट्रीय समर्थन वाले 36 सैनिकों को अपने कब्जे में ले लिया है।

यह भी पढ़े  समुद्र में समाया लायन एयर का विमान, 189 यात्री थे सवार

सैन्य और मेडिकल सूत्रों ने बताया था कि यमनी बलों और हूती के बीच संघर्ष में बीते दो दिनों के दौरान 300 से ज्यादा लोग मारे गए हैं, वहीं 550 से ज्यादा घायल हुए हैं। क्षेत्र के निवासियों ने कहा था कि वे लोग शनिवार सुबह से ही शहर के दक्षिण में स्थित हवाई क्षेत्र से धमाकों और गोलीबारी की आवाज सुन रहे थे और सरकारी सेना एयरपोर्ट को कब्जे में लेने के बाद शहर के दक्षिणी भाग पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए आगे बढ़ रही थी। लेकिन हूती विद्रोहियों ने सऊदी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना से इस एयरपोर्ट पर कब्जा वापस पा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here