श्रम संसाधन विभाग ने 1222 अनुबंध कर्मियों को नौकरी से निकाला,जमकर हंगामा

0
249

बिहार सरकार के श्रम विभाग में कार्यरत 1222 अनुबंध कर्मी अनुदेशकों ने आज पटना के बेली रोड में जमकर हंगामा किया। जिसके बाद अनुदेशकों पर पुलिस ने जमकर लाठीचार्ज किया और कई अनुदेशकों को हिरासत में भी ले लिया गया।

अनुदेशकों का आरोप है कि उन्हें बिना किसी सूचना के तत्काल नौकरी से निकाल दिया गया। इसी वजह से अनुदेशक नारेबाजी कर रहे थे। भारी संख्या में अनुबंध कर्मी श्रम विभाग के दफ्तर परिसर में धरना प्रदर्शन किया। कर्मचारी जब श्रम विभाग का घेराव करने निकले, तो उन्हें पुलिस ने रोक दिया और इस बीच काफी हो हंगामा हुआ।

कर्मचारियों ने मीडिया से कहा कि हमारी मांग यह है कि हम अपनी नियुक्ति वापस चाहते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से अचानक शुक्रवार को एक पत्र आया और कहा गया कि सभी कर्मचारियों को निष्कासित कर दिया गया है।

कर्मचारियों का कहना है कि वह विभाग में डेढ़ साल से काम कर रहे थे, कर्मचारियों का यह भी आरोप है कि विभाग द्वारा समय पर वेतन भुगतान नहीं किया जाता है. छह महीने से उन्हें वेतन तक नहीं मिला है. श्रम संसाधन विभाग में यह कर्मचारी अनुबंध पर काम कर रहे थे. विभाग का कहना है कि कर्मचारियों की नियुक्ति में अनियमितता बरती गयी है, इसलिए इन सभी को हटाया जा रहा है. वहीं अनुबंध कर्मियों का कहना है कि जिसने अनियमितता की है, जांच कर उसे हटाया जाये. सभी कर्मचारियों को हटाने का कोई मतलब नहीं बनता है.

यह भी पढ़े  एनडीए के घटक दल तालमेल से लड़ेंगे उपचुनाव

सभी कर्मचारी श्रम विभाग के मंत्री और सचिव से मुलाकात करने पर अड़े हुए हैं.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here