जेल में लालू यादव की तबीयत बिगड़ी, रिम्स में कराए गए भर्ती

0
164
file photo

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की जेल में तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है. तबीयत खराब होने की वजह क्या है यह फिलहाल पता नहीं चल सका है. लालू चारा घोटाला के तीसरे मामले में बिरसा मुंडा जेल में सजा काट रहे हैं. सुनवाई के दौरान लालू के वकील ने तबीयत खराब होने का भी हवाला दिया था और जज से कम से कम सजा की अपील की थी.

राजद नेता रघुवंश प्रसाद ने कहा कि मैं कोर्ट में उनका इंतजार कर रहा था. आज सुनवाई होनी थी, लेकिन टल गयी. मुझे पता चला कि उनकी तबीयत खराब है और उन्हें रिम्स लाया जाएगा. इसलिए मैं यहां आया हूं.

-लालू प्रसाद यादव के तबीयत की खबर मिलते ही उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव पटना से रांची के लिए रवाना हुए. वे कुछ ही देर में रांची पहुंचेंगे. वे एयरपोर्ट से सीधे रिम्स पहुंचेंगे. रिम्स के बाहर की सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है.

यह भी पढ़े  नेपाल में हुए सड़क हादसे में बिहार के 6 लोगों की दर्दनाक मौत

रांची : बिरसा कारागर में बंद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को थोड़ी देर में रिम्स लाया जाएगा. जानकारी के अनुसार जेल में उनकी तबीयत खराब हो गयी है. बताया जा रहा है कि लालू यादव का स्वास्थ्य गिर गया है. सर्जरी विभाग के डॉ मृत्युंजय सरावगी को रिम्स प्रबंधन ने इस संबंध में सूचना दी है..

इसके साथ ही अदालत ने बिहार के तत्कालीन महालेखा परीक्षक समेत महालेखाकार कार्यालय के तीन अधिकारियों के खिलाफ इसी मामले में मुकदमा चलाये जाने की लालू प्रसाद की याचिका स्वीकार करते हुए तीनों को समन जारी करने का निर्देश दिया. चारा घोटाला के दुमका कोषागार मामले में तीन करोड़, तेरह लाख रुपये का गबन हुआ था.

 

शनिवार को यानी आज सीबीआई के विशेष अदालत में चारा घोटाले के चौथे मामले को लेकर फैसला आनेवाला था. लेकिन सीबीआई के विशेष अदालत के जज शिवपाल सिंह दो दिनों की ट्रेनिंग में चले गये हैं. इसलिए फैसला सोमवार को आयेगा. दुमका कोषागार मामले की सुनवाई 5 मार्च को ही पूरी हो गयी थी. अब तक लालू को तीन मामलों में सजा सुनाया जा चुका है. इनमें चाईबासा मामले में पांच साल, देवघर मामले में साढ़े तीन साल और चाईबासा के ही एक अन्य मामले में पांच साल की सजा सुनायी जा चुकी है. उनपर 10 लाख का जुर्माना भी लगाया गया है. लालू यादव फिलहाल रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं.

यह भी पढ़े  आईजीआईएमएस, पीएमसीएच और एनएमसीएच को 25-25 सौ बेड का अस्पताल बनाने का लक्ष्य

इससे पहले इसी वर्ष 24 जनवरी को लालू प्रसाद एवं जगन्नाथ मिश्र को सीबीआई की विशेष अदालत ने चाईबासा कोषागार से 35 करोड़, 62 लाख रुपये का गबन करने के चारा घोटाले के एक अन्य मामले में दोषी करार देते हुए पांच-पांच वर्ष सश्रम कारावास एवं क्रमशः दस लाख एवं पांच लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनायी थी. सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाले के चाईबासा मामले में कुल 50 आरोपियों को दोषी करार देते हुए सजा सुनायी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here