नित्यानंद राय के ISIS वाले व्यान पर एक बार फिर सूबे की राजनीति में उबाल ….

0
259

बिहार में उपचुनाव को लेकर राजनीतिक बयानबाजी अपने चरम पर है वैसे कल चुनाव प्रचार ख़त्म हो गया किन्तु लोकसभा उपचुनाव में प्रचार के अंतिम दिन बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने राजद प्रत्याशी सरफराज आलम पर हमला बोलते हुए कहा था की , ‘यदि सरफराज जीत जाएगा तो अररिया ISIS का अड्डा बन जाएगा और बीजेपी से प्रदीप सिंह जीतता है तो अररिया में देशभक्तों का अड्डा होगा’. नरपतगंज में शुक्रवार को एनडीए की चुनावी सभा थी जिसमे बीजेपी बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव,कृषि मंत्री प्रेम कुमार, सम्राट चौधरी, एमएलसी दिलीप जायसवाल, राजेन्द्र गुप्ता समेत कई एनडीए के नेता मंच पर मौजूद थे. बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री और बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव ने नरपतगंज चुनावी भाषण में कहा कि जिसने जनता का कभी भला नहीं किया उसे जनता से चुनकर आने का कोई हक नहीं है. राजनीति को वंशवाद जातिवाद एवं सम्प्रदायवाद से मुक्त करना है.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के इस  बयान ने बवाल मचा दिया है. सियासत तेज हो गयी है और राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा है कि करारी हार के डर से ऐसे बयान मुंह से निकल रहे हैं.

यह भी पढ़े  तीसरे चरण के लिए छठे दिन 30 प्रत्याशियों ने किया नामांकन

राजद ने शनिवार को भाजपा की बिहार इकाई के अध्यक्ष नित्यानंद राय की उस टिप्पणी की निंदा की है,  जिसमें उन्होंने कथित रूप से कहा था कि राज्य के अररिया संसदीय क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव में अगर राजद प्रमुख लालू प्रसाद की पार्टी का उम्मीदवार जीतता हैं तो अररिया आतंकवादी समूह आईएसआईएस के लिए सुरक्षित स्थान बन जाएगा. राय ने आज एक रैली को संबोधित करते हुए कथित रूप से कहा था कि अररिया संसदीय क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव में अगर राजद के उम्मीदवार :सरफराज आलम: जीतते हैं तो अररिया आतंकवादी समूह आईएसआईएस के लिए सुरक्षित स्थान बन जाएगा. हमारे उम्मीदवार प्रदीप सिंह की विजय से राष्ट्र भावना बढ़ेगी.

इस बयान के बाद राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  शिवानंद तिवारी ने राय की उक्त टिप्पणी पर आपत्ति जताते हुए इसे भाजपा की हताशा का परिचायक बताया और कहा कि उन्होंने अररिया में भाजपा की भारी हार की संभावना के मद्देनजर ऐसी टिप्पणी की होगी. उन्होंने कहा कि इससे पहले कई बार भाजपा नेताओं द्वारा इस प्रकार की टिप्पणी की गयी है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 2015 में विधानसभा चुनाव के दौरान कहा था कि भाजपा की हार का जश्न पाकिस्तान में मनाया जाएगा. तिवारी ने आरोप लगाया कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि पाकिस्तान चाहता है कि कांग्रेस जीत जाए ताकि अहमद पटेल मुख्यमंत्री बन सकें.

यह भी पढ़े  600 करोड़ का धान घोटाला, फर्जी ट्रांसपोर्टर के सहारे किया हेराफेरी!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here