आज 4 दिसम्बर का इतिहास

0
364

4 दिसम्बर सन 1748 ईसवी को फ़्रांस के रसायन शास्त्री बर्टले का जन्म हुआ। उन्होंने अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद रसायन शास्त्र के क्षेत्र में शोध कार्य आरंभ किया। उन्होंने बहुत से प्रयोगों के बाद क्लोरीन में पाईजने वाली दुर्गंध दूर करने की विशेषता का पता लगाया। बर्टले ने इसी प्रकार विभिन्न प्रकार के नमकों के बारे में शोध कार्य किया। सन 1822 में उनका निधन हुआ।

4 दिसम्बर सन 1899 ईसवी को पहली बार टाफॉइड का टीका मनुष्य को इस बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए प्रयोग किया गया। पहले फ़्रांस के दो वैज्ञानिकों ने इस टीके की खोज की। बाद में ब्रिटेन के चिकित्सक हॉकिन ने इसे प्रयोग के चरण तक पहँचाया। अंतत: राइट नामक एक चिकित्सक ने इसके सार्वजनिक प्रयोग का मार्ग प्रशस्त किया।

4 दिसम्बर सन 1952 ईसवी को दक्षिणी अमरीका में ऐटलांटिक महासागर में स्थित बरमूदा द्वीप के बारे में अमरीका, ब्रिटेन और फ़्रांस की तीन पक्षीय कॉन्फ़ेन्स आरंभ हुई। इन तीनों देशों ने अपने आपसी संबंधों की समीक्षा करने के साथ ही पूर्व सोवियत संघ की नीतियों का मुक़ाबला करने हेतु आपसी सहकारिता और समन्वय के संबंध में भी महत्वपूर्ण निर्णय लिए। यह कॉन्फ़्रेन्स बरलिन में हुई थी। उस समय बरलिन का पश्चिमी भाग अमरीका, ब्रिटेन और फ़्रांस के अधिकार में था, जबकि पूर्वी बरलिन पर पूर्व सोवियत संघ का अधिकार था। बरलिन नगर के संचालन को लेकर बढ़ने वाले मतभेदों के कारण वर्ष 1961 में बरलिन दीवार बना दी गयी जिससे यह शहर दो भागों में विभाजित हो गया।

यह भी पढ़े  आज 29 दिसम्बर का इतिहास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here