ओएसडी आत्महत्या मामले की सीबीआई से कराएं जाने की मांग उठने लगी ..

0
312

पटना। ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस-ए-मशावरत की बिहार इकाई के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री शमायले नबी ने बक्सर जिलाधिकारी के विशेष कार्य पदाधिकारी (ओएसडी) मोहम्मद तौकीर अकरम की आत्महत्या को बेहद दुखद बताया और मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) से जांच कराने की मांग की।श्री नबी ने यहां कहा कि मोहम्मद तौकीर की आत्महत्या का मामला बेहद अफसोसजनक और चिंताजनक है।

उन्होंने कहा कि हालांकि मृतक ने अपने सुसाइड नोट में आत्महत्या के कारणों का जिक्र नहीं किया है फिर भी एक उच्च अधिकारी का आत्महत्या करना कई सवाल खड़े करता है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व अगस्त 2017 में बक्सर के ही जिलाधिकारी मुकेश पांडेय ने भी उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली थी।

पूर्व मंत्री ने कहा कि बिहार सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए। इस मामले की केवल उच्च स्तरीय जांच से काम नहीं चलने वाला है बल्कि इस रहस्यमय आत्महत्या के मामले की विस्तार से जांच किये जाने की जरूरत है।

यह भी पढ़े  खेसारी लाल के कार्यक्रम में पथराव, कई पुलिसकर्मी जख्मी, रोये खेसारी

उन्होंने कहा कि मोहम्मद तौकीर ईमानदार और कर्त्तव्यनिष्ठ अधिकारी थे। इसलिए जनहित में इस मामले की जांच सीबीआई से अवश्य करायी जानी चाहिए। गौरतलब है कि बक्सर जिलाधिकारी अर¨वद कुमार वर्मा के ओएसडी मोहम्मद तौकीरअकरम ने कल सुबह अपने आवास पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here