परंपरागत प्रचार की इजाजत न मिली तो रहेंगे दूर:तेजस्वी

0
35
file photo

कोरोना संक्रमण के बीच राजद नेता तेजस्वी यादव का बड़ा बयान सामने आया है। तेजस्वी ने कहा है कि अगर परंपरागत प्रचार की इजाजत नहीं मिलती है तो उनकी पार्टी चुनाव से दूर रहेगी। बिहार में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। पिछले दो दिन में लगातार 700 से अधिक नए मरीज मिले हैं। राज्य में संक्रमितों की संख्या 14 हजार के करीब पहुंच गई है। रघुवंश प्रसाद सिंह, गुलाम गौस और विनोद सिंह, राजद, जदयू तथा भाजपा तीनों दल के नेता संक्रमित हुए हैं। विधानसभा का चुनाव तीन माह में होना है। ऐसे में राजनीतिक दलों के सामने यह चुनौती है कि वे जनता के बीच कैसे जाएंगे। भाजपा और जदयू ने इसके लिए डिजिटल अभियान शुरू कर दिया है, लेकिन राजद परंपरागत चुनाव प्रचार के पक्ष में है।

बिहार में फेक चुनाव नहीं होने देंगे
तेजस्वी यादव ने कहा कि हम बिहार में फेक चुनाव नहीं होने देंगे। राजद परंपरागत प्रचार के बिना चुनाव में नहीं जाएगा। वे 10 सर्कुलर रोड में जिलाध्यक्षों और विधायकों-विधान पार्षदों को संबोधित कर रहे थे। कहा- हमारे नेता लालू प्रसाद अक्टूबर तक जेल से बाहर होंगे, ऐसी पूरी उम्मीद है।

यह भी पढ़े  अतिपिछड़ा का बेटा बताएँगे, ध्रुवीकरण की असफल कोशिश करेंगे :तेजस्वी

बिहार विधानसभा का चुनाव समय पर होगा: आयोग
भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बुधवार को कहा था कि बिहार विधानसभा का आम चुनाव समय पर होगा। इसके लिए आवश्यक तैयारी की जा रही है। कोरोना महामारी के कारण इस बार वोटिंग, मतदान केंद्रों पर वोटरों की संख्या और चुनावी रैली को लेकर कई बदलाव किए जाएंगे। चुनाव आयोग सुनिश्चित करेगा कि कोरोना से जुड़े एसओपी का पालन बिहार चुनाव में हो।

इन नेताओं को हुआ कोरोना का संक्रमण

अवधेश नारायण सिंह, बिहार विधानपरिषद के कार्यकारी सभापति
रघुवंश प्रसाद सिंह, राजद के वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री
गुलाम गौस, जदयू एमएलसी
आनंद शंकर, कांग्रेस विधायक औरंगाबाद
विनोद सिंह, भाजपा विधायक व राज्य सरकार में मंत्री
जीवेश कुमार, भाजपा विधायक, जाले, दरभंगा
शहनवाज आलम, जोकीहाट के राजद विधायक
मीना देवी, पूर्व सांसद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here