मोदी की सरप्राइज विजिट से चीन-पाक को कड़ा और दुनिया को बड़ा संदेश

0
36

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अचानक लेह पहुंच गए हैं. पीएम मोदी के इस सरप्राइज विजिट से चीन समेत पूरी दुनिया को बड़ा संदेश मिला है. डिफेंस एक्सपर्ट्स की माने तो पीएम नरेंद्र मोदी ने लेह जाकर बड़ा कदम उठाया है और चीन को संदेश दे दिया है कि हम पीछे हटने वाले नहीं हैं.

रिटायर मेजर जनरल एके सिवाच ने आजतक से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे से चीन को साफ मैसेज मिल गया है कि हम पीछे नहीं हटेंगे. अगर चीनी सैनिक एलएसी पर डटे रहेंगे तो हमारे सैनिक भी एलएसी पर डटे रहेंगे. हम किसी भी मामले में समझौता नहीं करेंगे.

रक्षा विशेषज्ञ रिटायर ब्रिगेडियर विक्रम दत्ता का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से फ्रंटलाइन पर तैनात सेना का मनोबल बढ़ गया है. पीएम मोदी का सेना से लगाव काफी अच्छा है. इससे सेना के जवानों और अधिकारियों को पूरी ताकत, मनोबल और यथाशक्ति मिलेगी, जिससे वह एलएसी पर चीन का डटकर मुकाबला कर सके.

यह भी पढ़े  भारत पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो,कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर विदेश मंत्री एस. जयशंकर के साथ करेंगे चर्चा

पीएम नरेंद्र मोदी के ग्राउंड जीरो पर पहुंचने पर रिटायर ब्रिगेडियर विक्रम दत्ता ने कहा कि इससे प्रधानमंत्री को जमीनी हालात के बारे में जानकारी मिलेगी. साथ ही वह समझ पाएंगे कि वर्तमान हालात क्या हैं. साथ ही जब कोई भी सेना अपने प्रधानमंत्री को युद्धक्षेत्र में देखती है तो उसका हौसला कई गुना बढ़ जाता है.

वहीं, रिटायर मेजर जनरल शशि अस्थाना ने कहा कि अब तक चीन से सैन्य वार्ता की गई है. ऐसे में पीएम नरेंद्र मोदी जमीन पर हालात को समझेंगे और जानेंगे कि अभी तक चीन से क्या बात की गई है. इसके साथ ही भारतीय सेना की तैयारी का जायजा लेंगे. चीन भले सहमत है कि वो पीछे जाएगा, लेकिन हम चीन की बात पर भरोसा नहीं कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here