विधायक पप्पू पांडे के खिलाफ साक्ष्य होने के बावजूद भी सरकार क्यों नहीं कर रही कार्रवाई : तेजस्वी

0
30

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने आज प्रेसकॉन्फ्रेंस कर एक बार फिर से गोपालगंज ट्रिपल मर्डर केस को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोला .

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सह आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने गोपालगंज ट्रिपल मर्डर केस मामले को लेकर राज्य सरकार पर बड़ा हमला बोला है. तेजस्वी यादव ने मंगलवार को पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता कर सरकार पर अपने विधायक को बचाने का आरोप लगाया. उन्होंने जेडीयू विधायक पप्पू पांडे के खिलाफ साक्ष्य के बावजूद कार्रवाई नहीं करने का भी आरोप लगाया.

तेजस्वी यादव ने सरकार से सवाल उठाते हुए पूछा कि कार्रवाई कब तक होगी और कब आरोपित को गिरफ्तार किया जायेगा. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर समय सीमा नहीं बतायी गयी, तो आंदोलन होगा. तेजस्वी ने कहा कि सरकार पप्पू पांडेय के तीन महीने का कॉल डिटेल और व्हाट्सएप मैसेज का डिटेल्स निकाले. मालूम हो कि ट्रिपल हत्याकांड मामले में पुलिस ने एसआईटी गठित कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

यह भी पढ़े  लूट रहा है बिहारी और लुट रहा बिहार, कुर्सी-कुर्सी खेल रही खिलाड़ी सरकार:आरजेडी का नया पोस्टर

तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी की चुप्पी भी सवाल खड़े करती है. जबकि, पप्पू पांडे ने उनके नेताओं को भी धमकी दी थी और हत्या करायी है. तेजस्वी यादव ने गोपालगंज में साल 2017 में हुए बीजेपी नेता कृष्णा शाही की हत्या मामले को लेकर एक वीडियो जारी किया. इसमें उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी नेता की हत्या जेडीयू विधायक और उनके भाई सतीश पांडे ने करायी है.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने पुष्टि की थी कि सतीश पांडे और पप्पू पांडे की मिलीभगत से कृष्णा शाही के ऊपर एके-47 से हमला कराया गया था. तेजस्वी यादव ने सरकार के समक्ष सवाल उठाते हुए पूछा है कि पप्पू पांडेय कब गिरफ्तार होंगे?

साथ ही बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि चुप्पी तोड़ें और जवाब दें. उन्होंने पूछा कि जेडीयू विधायक को कौन बचा रहा है? साथ ही तेजस्वी ने तंज कसते हुए कहा कि समझ नहीं आ रहा कि पुलिस साक्ष्य जुटा रही है या मिटा रही है.

यह भी पढ़े  नितिन गडकरी कल आयेंगे बिहार, 33 अरब 81 करोड़ की परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन व शिलान्यास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here