देश में दो लाख के करीब पहुंचे संक्रमण के मामले, पिछले 24 घंटों में हुई 204 लोगों की मौत

0
42

देश में आज जानलेवा कोरोना वायरस के मामले करीब दो लाख हो गए हैं. पिछले 24 घंटों में 8171 मामले सामने आए हैं. वहीं 204 लोगों की मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, अबतक एक लाख 98 हजार 706 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं 5598 लोगों की मौत हो चुकी है. 95 हजार 527 लोग ठीक भी हुए हैं. महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य हैं.

करीब 75% मरीज और 83% मौत सिर्फ 6 राज्यों में

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, अब तक के कुल संक्रमित मरीजों में से करीब 75% मरीज और 83% मौत सिर्फ 6 राज्यों में हुई है. अब तक सामने आए कुल मामले में से 75.33% केस जिन 6 राज्यों में है वो है महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश. सबसे ज्यादा चिंता महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली और गुजरात में है. यहां रोज़ाना बहुत तेजी से मामले बढ़ रहे है.

यह भी पढ़े  सूबे में भीषण गर्मी के बीच कोरोना का कहर जारी अब तक 2870 मरीज मिले कोरोना पोजेटिव जिसमे अधिकतर है प्रवाशी

स्‍वस्‍थ होने वाले लोगों की कुल दर 48.19%

 

देश में इलाज के बाद स्‍वस्‍थ होने वाले लोगों की कुल दर तेजी से बढ़ रही है और यह 48.19% हो गई है. इलाज के बाद स्‍वस्‍थ होने वाले लोगों की दर 18 मई को 38.29% थी. 3 मई को यह 26.59% थी और 15 अप्रैल को यह 11.42% थी. वर्तमान में देश में सक्रिय चिकित्सा निगरानी के अंतर्गत आने वाले मामलों की संख्या 93,322 है. एक निश्चित अवधि में बीमारी से संक्रमित कुल लोगों की तुलना में मरने वालों की अनुपात दर(केस फेटेलिटी रेट) 2.83% है. 18 मई को यह 3.15% था. 3 मई को 3.25% और 15 अप्रैल को 3.30% था.

मरने वालों के अनुपात में लगातार गिरावट आ रही है

देश में एक निश्चित अवधि में बीमारी से संक्रमित कुल लोगों की तुलना में मरने वालों के अनुपात में लगातार गिरावट आ रही है. कम मृत्‍यु दर का कारण निगरानी, समय पर मरीज की पहचान और मामलों का क्‍लीनिकल प्रबंधन करना है. दो विशेष बातें नोटिस की जा सकती हैं, एक तरफ ठीक होने की दर बढ़ रही है, दूसरी तरफ एक निश्चित अवधि में बीमारी से संक्रमित कुल लोगों की तुलना में मरने वालों की अनुपात की दर गिर रही है.

यह भी पढ़े  अगले 48 घंटे बिहार पर पड़ेंगे भारी, इन जिलों में आकाशीय बिजली गिरने का खतरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here