गोपालगंज में जदयू विधायक के करीबी की गोली मारकर हत्या ,72 घंटे के अंदर चार लोगों की गई जान

0
43

गोपालगंज के हथुआ थाना क्षेत्र के रेपुरा गांव में कुचायकोट के जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय के करीबी की गोली मारकर हत्या कर दी गई ।हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश हथियार लहराते हुए फरार हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच मामले की जांच करते हुए इलाके कि घेराबंदी कर बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। घटना स्थल से  पुलिस को कुछ खोखा बरामद हुआ हैं। 72घंटे के अंदर हुई चार हत्या से हथुआ क्षेत्र दहल उठा हैं।
मृतक के परिजनों ने हत्या करने का आरोप तुलसिया गांव निवासी मनु तिवारी पर लगाया हैं। मनु तिवारी ठेकेदार शंभू मिश्रा हत्या कांड में भी नामजद हैं।ठेकेदार की हत्या के बाद से ही फरार चल रहा हैं।
मीरगंज में किया हंगामा
हत्या के बाद रेपुरा गांव के ग्रामीण आक्रोशित हो उठे और मीरगंज पहुंच कर हंगामा करने लगे। इस दौरान लोगों ने पथराव भी किया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से लोगों को समझा – बुझाकर शांत कराया । वहीं विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न नहीं हो इसके लिए बाजार से लेकर गांव तक कैंप किए हुए हैं।
घर के समीप बागीचे में बैठा थे कारोबारी ,दौड़ाकर बदमाशों ने मारी  गोली
हथुआ थाना क्षेत्र के रेपुरा गांव निवासी शशि कांत तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी अपने घर के पास के बागीचे में बैठे हुए थे ।इसी दौरान बाइक पर सवार तीन बदमाश आए और दौड़ा कर शशि कांत तिवारी को गोली मार दी। आनन फानन में इलाज के लिए उन्हें सदर अस्पताल लाया गया। जहां उनकी मौत हो गई। अचानक चली गोली से गांव के लोग सकते में आ गए। जिसके बाद बदमाश हथियार लहराते हुए फरार हो गए । हत्या की वारदात के बाद पुलिस ने मृतक के परिजनों की सुरक्षा बढ़ा दी हैं। इस हत्या के बाद क्षेत्र में गैंगवार की संभावना बढ़ गई हैं। ग्रामीण किसी अनहोनी की घटना से दहशत में हैं।
परिजनों ने दर्ज कराई एफआईआर हत्यारे बोले-जेपी का बदला पूरा हुआ
हत्या के बाद परिजनों ने  मनु तिवारी ,परमेंद्र यादव  ,मुन्ना यादव पर एफआईआर दर्ज कराया हैं। मृतक के छोटे भाई ने बाताया कि हत्यारे गोली चलाते हुए यह कह रहे थ्रे कि यह जेपी यादव के परिवार के हत्या का बदला हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच करते हुए सभी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रहीं हैं।
वजह यह भी हो सकती है                                                                       
सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मनु तिवारी को पुलिस पकड़ने के लिए गांव में छापेमारी करने गई थी । इस दौरान शशि कांत तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी ने पुलिस को बता दिया था कि मनु तिवारी अभी यही हैं। जिसके बाद से ही उससे अदावत चल रहीं थी । पुलिस इस मामले की जांच कर रहीं हैं।
दो दिन पहले रूपनचक गांव में तीन लोगों की हुई थी हत्या
हथुआ के रूपनचक गांव में जेपी यादव के मां-पिता और भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसमें विधायक पप्पू पांडेय पर भी एफआइआर दर्ज की गई है। इस मामले में उनके भाई  सतीश पांडेय और भतीजे जिला परिषद अध्यक्ष मुकेश पांडेय को सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।अब विधायक पप्पू पांडेय के करीबी मुन्ना तिवारी की हत्या से एक बार फिर हथुआ दहल उठा है।
गिरफ्तारी के लिए बनाई गई टीम ,एफएसएल की टीम भी पहुंचेगी
हत्या के बाद एसपी मनोज कुमार तिवारी ने बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए मीरगंज इंस्पेक्टर के नेतृत्व में टीम का गठन किया हैं। वहीं घटना स्थल पर एफएसएल की टीम को भी  बुलाया गया हैं।

यह भी पढ़े  छात्र का अपहरण कर मांग रहे थे 15 लाख की फिरौती, चार गिरफ्तार , छात्र सकुशल बरामद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here