नून रोटी खाएंगे कोरोना को भगाएंगे…नून रोटी खाएंगे अब बिहार में ही रह जाएंगे…

0
6

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हर दिन जिलों में लगे क्वारंटाइन सेंटर का हाल जान रहे हैं. वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए प्रवासी मजदूरों से सीधा संवाद कर रहे रहे हैं. शनिवार को इस संवाद के बीच बड़ा ही रोचक मामला सामने आया, जब एक मजदूर ने सीएम के सामने गाने की इच्छा रखी और गाने के बाद सीएम ने भी गाने की तुकबंदी में सुर मिला दिया.

बीते दो दिनों से सीएम बिहार के क्वारंटाइन सेंटरों का हाल जान रहे हैं. शनिवार को नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण, गोपालगंज, अररिया, किशनगंज, सहरसा, खगड़िया और सीवान जिले के 20 क्वारंटाइन सेंटरों से फीडबैक लिया, लेकिन ये फीडबैक कार्यक्रम इतना जबरदस्त होगा इसका अंदाजा खुद सीएम को नहीं था.

दरअसल, अररिया के एक क्वारंटाइन सेंटर से बेहद ही खूबसूरत तस्वीर निकलकर सामने आयी. क्वारंटाइन सेंटर में मौजूद प्रवासी मजदूरों ने न केवल सीएम को अनुसाशन के रुप में पैरेड करके दिखाया, बल्कि सीएम के स्वागत में तालियां भी बजायीं.

यह भी पढ़े  Patna Local Photo 27/05/2018

मजदूर से बातचीत के क्रम में एक मजदूर ने सीएम के सामने गाने की भी इच्छा जतायी. भोजपूरी सिंगर खेसारी लाल का फेमस गाना मजदूर ने गाया.

…नून रोटी खाएंगे कोरोना को भगाएंगे…नून रोटी खाएंगे अब बिहार में ही रह जाएंगे…मजदूर के गाने से बेहद खुश सीएम ने भी गाने में तुकबंदी लगाते हुए कह दिया…..ठीक है….

सीएम के ठीक है बोलते ही पूरे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में सबके चेहर पर मुस्कान आ गई.

इधर, सीएम के साथ फीडबैक के क्रम में एक मजदूर ने कहा कि वो मुंबई में बिजली मिस्त्री का काम करता था. बिहार में उसे रोजगार मिले तो उसे यहां रुकने में कोई परेशानी नहीं. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत भी जुड़े थे.

यह भी पढ़े  फ्रांस ने भारत को पहला राफेल विमान सौंपा, रक्षा मंत्री बोले- ये भारत के लिए ऐतिहासिक दिन

उन्होंने तत्काल ये भरोसा दिलाया कि बिजली के काम से जुडे सभी मजदूरों को विभाग की ओर से काम दिया जाएगा.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कई मजदूरों ने खुद को कार्पेन्टर बताया तो कुछ ने बताया कि वो कन्स्ट्रक्शन काम से जुड़ा हुआ है. मजदूरों ने क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्था पर संतोष जताया.

सीएम नीतीश कुमार ने भी उन्हें भरोसा दिलाया कि काम की तलाश में उन्हें बाहर जाने की जरुरत नहीं है. उनके लिए यहीं काम की व्यवस्था की जाएगी. सीएम नीतीश ने प्रवासी मजदूरों से अब बिहार की सेवा करने की अपील की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here