भारत में 24 घंटे में रिकार्ड 6 हजार से ज्यादा मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 1.25 लाख के पार,ब तक 3720 लोगों की मौत

0
10

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. लगातार चौथे दिन आज कोरोना के 6000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही मौतों का आंकड़ा भी हर दिन बढ़ रहा है. स्वास्थ मंत्रालय द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6654 नए मामले सामने आए हैं. एक दिन में सामने आए नए मामलों की ये अब तक की सबसे बड़ी संख्या है. पिछले 24 घंटे में 137 लोगों की जानें जा चुकी हैं.

वहीं देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1 लाख 25 हजार 101 हो गई है. जिनमें से 51 हजार 784 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि अब तक 3720 लोगों की मौत हो चुकी है. अच्छी बात यह है कि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. रिकवरी रेट 41.39% है.

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पिछले 24 घंटों में रिकार्ड 6654 दर्ज किए गए और भारत में 137 लोगों की मौतें हुईं है। देश में अब कुल मामलों की संख्या 125101 है, जिनमें 69597 सक्रिय मामले और 3720 मौतें शामिल हैं। जिन 137 लोगों की मौत हुई है उनमें से 63 महाराष्ट्र में, 29 गुजरात में, 14-14 दिल्ली और उत्तर प्रदेश में, छह पश्चिम बंगाल में, चार तमिलनाडु में, दो-दो राजस्थान, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश में तथा एक मरीज की मौत हरियाणा में हुई।

यह भी पढ़े  कपड़े की दुकानवाला खरबों का मालिक कैसे बन बैठा : तेजस्वी

स्वास्थ्य मंत्रालय के बुलेटिन में यह जानकारी दी गई।​। भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे है। देश में अबतक संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में 44582 सामने आए है। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु 14753, तीसरे पर गुजरात 13268, चौथे पर दिल्ली 12319 और पांचवे पर राजस्थान 6494 मामलों के साथ है।

देश में कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 25 मार्च से ही राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू है। इसका चौथा चरण 18 मई से शुरू हुआ है और 31 मई तक जारी रहेगा, हालांकि इस चरण में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए सरकारों (केन्द्र और राज्य) ने काफी रियायतें दी हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों और कोविड-19 कार्य बल के सदस्यों ने हालांकि कई अध्ययनों और अनुसंधानों का संदर्भ देकर अपना तर्क मजबूत किया है कि महामारी को फैलने से रोकने के लिए लगाया गया लॉकडाउन बहुत प्रभावी रहा है।

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) और एक महत्वपूर्ण उच्चाधिकार प्राप्त समूह के अध्यक्ष डॉक्टर वी.के.पॉल ने कोविड-19 हालात पर कहा कि भारत में समय पर, चरणबद्ध तरीके से, अग्रसक्रिय और पहले से स्थिति भांप कर सार्वजनिक स्वास्थ्य संबंधी उपाय के रूप में लॉकडाउन को लागू किया गया और यह सरकार की व्यापक नीति और रणनीति का हिस्सा था। उन्होंने कहा कि संक्रमित लोगों की संख्या के तरह ही कोविड-19 से होने वाली मौतें भी लॉकडाउन के कारण कम हुई है।

यह भी पढ़े  पीएम मोदी ने आज एक बार फिर 42वीं बार की मन की बात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here