निर्भया कांड : अपराध करने वालों के लिए यह सबक है:दोषियों के फांसी पर गिरिराज सिंह का बयान

0
35

राजधानी दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप कांड में सात साल के बाद इंसाफ हुआ है. तिहाड़ जेल के फांसी घर में आज सुबह 5.30 बजे निर्भया के चारों दोषियों को फांसी दी गयी. इन दोषियों में विनय, अक्षय, मुकेश और पवन गुप्ता को एक साथ फांसी के फंदे पर लटकाया गया. इस पर केन्द्रीय मंत्री और भाजपा के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने बयान दिया है.

भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने ट्विट कर कहा है कि निर्भया के अपराधियों को फाँसी की सजा ऐसे जघन्य अपराध करने वालों के लिए सबक और कानून में आस्था रखने वाले के लिए न्याय है. बता दें कि आज सुवह 5.30 दिल्ली के तिहाड़ जेल में निर्भया के चारों दोषियों को सात साल लंबे चले न्यायिक प्रक्रिया के बाद फांसी दिया गया.

बता दें कि दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को एक महिला के साथ हुए गैंग रेप और मर्डर के मामले के चारों दोषियों को शुक्रवार की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दे दी गयी. फांसी के पहले रातभर कोर्ट में ड्रामा चला. निर्भया केस के दोषियों की फांसी की सजा रुकवाने का जो आखिरी प्रयास प्रयास गुरुवार दोपहर को शुरू हुआ, वह रात करीब सवा तीन बजे तक चला. घड़ी की छोटी सुई 3 और चार के बीच थी जबकि बड़ी सुई 3 पर थी, जब सुप्रीम कोर्ट ने दोषी पवन गुप्ता की तरफ से दोनों याचिका खारिज कर दी.

यह भी पढ़े  इंटर परीक्षा का एडमिट कार्ड वेबसाइट पर हुआ अपलोड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here