Delhi Violence: हिंसा में अब तक 27 लोगों की मौत,अजीत डोभाल ने संभाला मोर्चा

0
18

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध और समर्थन में आयोजित प्रदर्शन के बाद देश की राजधानी दिल्ली के नॉर्थ-ईस्ट इलाके में भड़की हिंसा में मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. अब तक 27 लोगों की जान जा चुकी है. राहत की बात ये रही कि बुधवार को कोई अप्रिय घटना नहीं हुई. कहीं से भी हिंसा की खबर नहीं आई. दिल्ली पुलिस ने भी दावा किया कि हालात काबू में हैं.

बुधवार को एक बार फिर हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने वाले NSA अजीत डोभाल ने भी कहा कि सब शांत है. वहीं, दिल्ली पुलिस के लिए गुरुवार का दिन अहम होने वाला है. दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक को नेताओं के भड़काऊ वीडियो देखने हैं, जिसके बाद पुलिस को गुरुवार दोपहर 2.15 बजे हाई कोर्ट में जवाब देना है.

दरअसल, दिल्ली हिंसा के मामले में भड़काऊ बयानों को लेकर एफआईआर दर्ज करने से जुड़ी याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस को गुरुवार तक जवाब देने का निर्देश दिया है. कोर्ट के निर्देश के बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर सभी वीडियो को देखने के बाद गुरुवार को जवाब देंगे.

यह भी पढ़े  बिहार में कांग्रेस की जीत का साइड इफेक्ट, अब आरजेडी ने लोकसभा की ज्यादा सीटों पर ठोका दावा

पुलिस का दावा-हालात काबू में

हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने बताया कि इस मामले में उपद्रव करने और हिंसा फैलाने के आरोप में अब तक 106 लोगों को गिरफ्तार किया है और 18 एफआईआर दर्ज की गई है.

एमएस रंधावा ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कार्रवाई जारी है. प्रभावित इलाकों में भारी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया है. ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है. उन्होंने कहा कि जिनके छतों पर पत्थर दिखे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने ये भी दावा किया कि हालात काबू में हैं.

अजीत डोभाल ने संभाला मोर्चा

मंगलवार रात को हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने वाले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल बुधवार को भी ग्राउंड जीरो पर पहुंचे. उन्होंने मौजपुर, जाफराबाद और घोंडा का दौरा किया. NSA ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील के साथ ही उन्हें भरोसा भी दिलाया कि उनकी सुरक्षा में दिल्ली पुलिस पूरी तरह मुस्तैद है और जो भी इस हिंसा के दोषी है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़े  अयोध्‍या मामले में CJI गोगोई ने परंपरा को तोड़ तीन जजों की बेंच के फैसले को पलटा

हिंसा प्रभावित दौरे के बाद NSA अजीत डोभाल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को हालात की जानकारी दी. अमित शाह और अजीत डोभाल के बीच हुई बैठक करीब 2 घंटे चली. इसमें गृह सचिव और दिल्ली पुलिस के कमिश्नर भी मौजूद रहे. इस मुलाकात में अजीत डोभाल ने सिलसिलेवार तरीके से हिंसाग्रस्त इलाकों की जानकारी गृह मंत्री को दी. साथ ही गृह मंत्री को यह भी बताया कि दिल्ली में हालात अब तेजी से सामान्य हो रहे हैं और शांति की स्थिति है.

CM केजरीवाल भी पहुंचे मौके पर

बुधवार को नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में वीआईपी लोगों का दौरा लगा रहा. अजीत डोभाल के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल मौके पर पहुंचे. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आधुनिक दिल्ली लाशों की नींव के ऊपर नहीं बन सकती. उन्होंने कहा कि अब नफरत की राजनीती बर्दाशत नहीं की जाएगी, दंगों की राजनीती बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इस दंगे में हिंदू-मुस्लिम हर कोई मारा जा रहा है. अरविंद केजरीवाल के साथ इस दौरान दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी मौजूद थे.

यह भी पढ़े  पीएमओ के ट्वीट पर कमलनाथ का तंज- मोदी जी आप पूरे देश के पीएम हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here