मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज जायेगे दिल्ली कल लिकर फ्री इंडिया पर आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन को करेंगे संबोधित

0
70
file photo

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बाद इसे राष्ट्रीय स्तर पर लागू करने के लिए अभियान चलाने की पैरवी करते रहे हैं. इस कड़ी में रविवार को वह ‘लिकर फ्री इंडिया’ पर आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन को संबोधित करेंगे.

यह कार्यक्रम ‘मिलिटा ओड़िशा निशा निवारण अभिजन’ की ओर आयोजित है. बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बाद घरेलू हिंसा के साथ ही अपराध और सड़क दुर्घटनाओं में कमी आयी है. इस साल बिहार में विधानसभा चुनाव होना है और शराबबंदी अभियान के जरिये नीतीश कुमार बड़ा संदेश देना चाहते हैं. शराबबंदी अभियान के जरिये मुख्यमंत्री महिला वर्ग को साधने की कोशिश करेंगे. पूर्व के चुनाव में भी देखा गया है कि महिला मतदाताओं के बड़े वर्ग का समर्थन नीतीश कुमार को मिलता रहा है. बिहार के इस प्रयोग को वह पूरे देश में लागू करने की मांग करते रहे हैं. ऐसे में ‘लिकर फ्री इंडिया’ उनके इस मकसद को आगे बढ़ाने में कारगर साबित हो सकता है.

यह भी पढ़े  आज बिहार के कई जिलों में भरी बारिश और ठनका गिरने की आशंका , उधर नेपाल में हो रही भारी बारिश बढ़ा रही सूबे की मुश्किलें

बिहार में पांच अप्रैल, 2016 से है पूर्ण शराबबंदी

गौरतलब है कि बिहार में पांच अप्रैल, 2016 से पूर्ण शराबबंदी है. बिहार के इस प्रयोग को दूसरे राज्यों में भी अपनाने की मांग होती रही है. लेकिन शराब से मिलने वाले राजस्व के कारण राज्य सरकारें ऐसा कदम उठाने से परहेज करती हैं. इस कार्यक्रम में राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश के अलावा गांधीवादी राधा भट्ट सहित आंध्र प्रदेश, मिजोरम सहित कई राज्यों के समाजसेवी शामिल होंगे.

कई राज्यों में मिल रहा समर्थन

शराबबंदी के लिए आंध्र प्रदेश और मिजोरम में भी लोगों ने अभियान चलाया था. देश के कई राज्यों में इस अभियान को चलाने के लिए समाज का एक बड़ा तबका आगे आ रहा है. इससे लगता है कि इन राज्यों में भी बिहार के तर्ज पर शराबबंदी के लिए आंदोलन शुरू किया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here