‘भटका’ हुआ लगता है शरजील इमाम, बोले-चढ़ाया जा रहा राजनीतिक रंग:अरुण कुमार

0
120

सीएए, एनआरसी और एनपीआर (CAA, NRC and NPR) के विरोध में भड़काऊ स्पीच देने वाले शरजील इमाम (Sharjeel Imam) को 28 जनवरी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर दिल्ली गई, लेकिन अब इसपर सियासत शुरू हो गई है. जहानाबाद के पूर्व सांसद अरुण कुमार (Former MP Arun Kumar) शरजील के समर्थन में उतर आए हैं. पूर्व सांसद ने कहा कि मैं उस परिवार को पिछले 40 साल से जानता हूं. उसके बयान का एक हिस्सा दिखाया जा रहा है और उस पर राजनीतिक रंग चढ़ाया जा रहा है. वह (शरजील इमाम) राष्ट्रद्रोही हो ही नहीं सकता. उसका मीडिया ट्रायल नहीं होना चाहिए.

‘वह ठीक हो जाएगा’
अरुण कुमार ने शरजील का बचाव करते हुए कहा, ‘उसको बचपन से देख रहा हूं. वह बॉम्बे आईआईटी का सेकंड टॉपर है. रातों-रात वह उग्रवादी और आतंकवादी हो गया, ऐसा मुझे नहीं लगता. वह जरूर इस्लामिक फ़ंडामेंटलिस्ट के ग्रिप में आ गया है और रास्ता भटक गया है. मुझे उम्मीद है कि वह ठीक हो जाएगा.’

यह भी पढ़े  पप्पू यादव का बिहार के विकास के लिए प्रशांत किशोर को साथ आने का निमंत्रण

‘रास्‍ते पर लाऊंगा’

अरुण कुमार ने कहा कि शरज़ील इमाम के पिता एनडीए की ओर से जेडीयू के उम्मीदवार थे. उसका भाई मुजाम्मिल इमाम जेडीयू का ज़िलाध्यक्ष रहा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू यादव सब उसके परिवार को जानते हैं. वह परिवार राष्ट्रद्रोही नहीं हो सकता. अगर भटका है तो मैं उसे रास्ते पर लाऊंगा. नीतीश कुमार और जेडीयू के लोग उसे स्‍वीकार नहीं कर रहे हैं, हम ऐसा नहीं करते.

बता दें कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने 28 जनवरी को शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद के काको थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया था. असम और उत्तर पूर्व को भारत से अलग करने को लेकर भड़काऊ भाषण देने के आरोप में 25 जनवरी को एसआईटी (अपराध शाखा) ने उसके खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here