देश विरोधी बयान देने वाला JNU छात्र शरजील इमाम बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार

0
42

देशविरोधी बयान देने के आरोप में जेएनयू छात्र शरजील इमाम को गिरफ्तार कर लिया है. शरजील को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया है. दरअसल शरजील इमाम के खिलाफ देशविरोधी बयान देने के आरोप में 5 राज्यों में केस दर्ज किए गए हैं. इसके बाद पुलिस लगातार शरजील इमाम की तलाश में जुटी हुई थी, लेकिन अब खबर आ रही है कि शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है.

इससे पहले दिल्ली के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने ians से बातचीत में कहा है था पुलिस को शक है कि शरजील इमाम नेपाल भाग गया है. अगर वाकई ऐसा है तो उसे पकड़ना काफी मुशकिल हो जाएगा. जानकारी के मुताबिक जेएनयू छात्र सरजील इमाम को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने जहानाबाद के काको से गिरफ्तार किया है.

इससे पहले बिहार की जहानाबाद पुलिस ने जेएनयू (JNU) छात्र और शाहीन बाग प्रदर्शन के सह-समन्वयक (co-coordinator) शरजील इमाम के भाई को हिरासत में ले लिया था. बता दें, जेएनयू छात्र शरजील इमाम पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है. उन पर आरोप है कि उन्होंने अपने भाषण में असम को भारत से अलग करने की बात की थी.

यह भी पढ़े  बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाना कांग्रेस की प्राथमिकता:रंजीत रंजन

पैतृक आवास पहुंची थी पुलिस

जहानाबाद के पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी की टीम ने शरजील की गिरफ्तारी के लिए जहानाबाद के काको स्थित पैतृक आवास पर रविवार को छापेमारी की. इस दौरान घर के सदस्यों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, हालांकि शरजील वहां नहीं मिला. इस बीच शरजील की मां अफशां परवीन ने आरोप लगाया है कि उसके बेटे के बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है. उन्होंने दावा किया कि उनका बेटा जैसा दिखाया जा रहा है वैसा नहीं है. उन्होंने कहा, ‘मेरे बेटे को फंसाया जा रहा है. वह केवल एनआरसी का विरोध जता रहा था.’

क्या है पूरा मामला?

दरअसल शनिवार को सोशल मीडिया पर शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में शरजील लोगों को भड़काने के साथ ही देश विरोधी बातें भी करता है. इस विडियो को लेकर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और असम के गुवाहाटी में उसके खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ , जिसमें देशद्रोह की धारा भी शामिल है. यूपी पुलिस ने दो टीमों को शरजील की गिरफ्तारी के लिए लगाया है.

यह भी पढ़े  न्यायपालिका को जातिवादी बताना ही अब विपक्ष का काम :उपमुख्यमंत्री

शरजील के विवादित वीडियो में कई भड़काऊ बातें कही गई थी. शरजील ने लोगों को भड़काते हुए कहा था कि ‘आप जानते हो असम में मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है? एनआरसी वहां लागू हो चुका है और लोगों को डिटेंशन कैंपों में भेजा जा रहा है. शरजील ने कहा कि हमें असम के रास्ते बंद करने होंगे जिससे सेना और अन्य सप्लाई वहां न पहुंच सके. मुर्गी की गर्दन मुसलमानों के हाथ में है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here