आज महाराणा प्रताप पुण्यतिथि समारोह, सीएम करेंगे उद्घाटन

0
149
महाराणा प्रताप की पुण्यतिथि पर आयोजित स्मृति समारोह का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को पटना के मिलर हाइस्कूल मैदान में करेंगे. समारोह राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस के रूप में मनाया जायेगा.
यह जानकारी जदयू के मुख्य प्रवक्ता व महाराणा प्रताप  आयोजन समिति के अध्यक्ष संजय सिंह ने दी. वे मिलर हाइस्कूल मैदान में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे. मौके पर जदयू विधायक लेसी सिंह ने कहा कि पूरे राज्य से लोग समारोह में जुटेंगे. समारोह एतिहासिक होगा.
 संजय सिंह ने आयोजन की तिथि के बारे में कहा कि इसका आयोजन 20 जनवरी, 2020 को हो रहा है. इसे 20-20  बताते हुए कहा कि यह महज संयोग है. इस आयोजन के लिए उन्होंने पिछले ढाई महीने से पूरे बिहार का दौरा किया. महाराणा प्रताप के साथ अगड़ा, पिछड़ा, भील सहित सभी जाति धर्म के लोग थे. इस आयोजन में बिहार के कोने-कोने से लोग रविवार शाम तक पहुंच जायेंगे. उनके रहने की व्यवस्था 15 जगहों पर की गयी है.
101 घोड़े सीएम का करेंगे स्वागत : संजय सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप का घोड़ा चेतक था. ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का स्वागत  101 घोड़े के साथ वह आयकर गोलंबर पर करेंगे. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जब अगड़ों को 10% आरक्षण दिया, तो मुख्यमंत्री ने विधानमंडल का विशेष सत्र आयोजन कर इसे पास करवाया.
जीवनी पढ़ने से मिली पुण्यतिथि मनाने की प्रेरणा 
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इस समारोह का चुनाव अभियान से कोई सरोकार नहीं है. महाराणा प्रताप की जीवनी पढ़ने के बाद समारोह मनाने की प्रेरणा मिली. यह पुण्यतिथि हर वर्ष मनायेंगे. संजय सिंह ने कहा कि समारोह के नाम पर राजपूतों को एकजुट करने की तैयारी गलत है. हमारे नेता को अगड़ा, पिछड़ा, दलित व आदिवासी  सभी चाहते हैं. अगड़ा कभी राजद के साथ नहीं जायेंगे. जगदानंद सिंह को प्रदेश अध्यक्ष बनाने से क्या होगा.
लोगों को पता है कि अगड़ों के प्रति 
राजद का रवैया क्या होगा. 1990 में लालू प्रसाद ने कहा था कि भूरा बाल साफ करो. आरक्षण की बात हुई, तो केवल राजद ने विरोध किया.  प्रेस कॉन्फ्रेंस में जदयू प्रदेश महासचिव प्रो नवीन कुमार आर्य, जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद, अरविंद निषाद व युवा जदयू के प्रदेश उपाध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह सेतु मौजूद थे.
यह भी पढ़े  आधी रात को रणक्षेत्र बना पटना यूनिवर्सिटी का इलाका, फायरिंग और रोड़ेबाजी में एक की गई जान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here