Pariksha Pe Charcha : छात्रों संग मोदी की परीक्षा पर चर्चा, ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम शुरू,

0
51

आगामी बोर्ड और प्रवेश परीक्षाओं से पहले प्रधानमंत्री मोदी आज देश के छात्र-छात्राओं को ‘गुरु मंत्र’ देंगे. राजधानी दिल्ली के तालकटोरा इनडोर स्टेडियम में प्रधानमंत्री आज छात्रों से ‘परीक्षा पे चर्चा’ चर्चा करेंगे. कार्यक्रम की शुरूआत सुबह 11 बजे होगी, जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी छात्रों और शिक्षकों से परीक्षा के तनाव को दूर करने पर संवाद करेंगे. छात्रों के अलावा शिक्षक और अभिभावक भी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. इस बार खासतौर पर दिव्यांग छात्रों को प्रधानमंत्री से अपने मन की बात कहने और प्रश्न पूछने का अवसर मिलेगा. कार्यक्रम में करीब 2,000 छात्र और शिक्षक भाग लेंगे, जिनमें से 1050 छात्रों का चयन निबंध प्रतियोगिता के जरिए किया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में छात्रों के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ कर रहे हैं. पीएम मोदी ने छात्रों को नव वर्ष की शुभकामनाएं दी हैं. इस कार्यक्रम के दौरान देशभर के छात्र पीएम मोदी से सवाल पूछ रहे हैं. परीक्षा पे चर्चा का यह तीसरा संस्करण है.

-पीएम मोदी ने छात्रों से कहा, ‘फिर एक बार आपका यह दोस्त आपके बीच में है. सबसे पहले मैं आपको नववर्ष 2020 की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं’. उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा आपके माता-पिता का बोझ थोड़ा हल्का करना चाहिए’ पीएम मोदी ने कहा ‘छात्रों से संवाद करके मुझे बहुत आनंद आता है. यह कार्यक्रम दिल को छू लेने वाला है’

यह भी पढ़े  भाजपा प्रत्याशियों की आज हो सकती है घोषणा, महागठबंधन में सीटों का एलान कल

‘यह महत्वपूर्ण दशक है’
पीएम मोदी ने कहा, ‘2020 सिर्फ नया वर्ष नहीं है, यह नया दशक भी है। यह दशक आपके लिए जितना महत्वपूर्ण है, उतना ही देश के लिए भी महत्वपूर्ण है। इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें इस समय जो 10वीं, 12वीं के विद्यार्थी हैं, उनका बहुत योगदान रहेगा’

परीक्षा जीवन नहीं है
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम विफलताओं से भी सफलता की शिक्षा पा सकते हैं. हर प्रयास में हम उत्साह भर सकते हैं और किसी चीज में आप विफल हो गए तो उसका मतलब है कि अब आप सफलता की ओर चल पड़े हो.’

उन्होंने कहा, ‘जाने अनजाने में हम उस दिशा में चल पड़े हैं जहां सफलता-विफलता का मुख्य बिंदु कुछ विशेष परीक्षाओं में हासिल किए गए मार्क्स बन गए हैं. इसकी वजह से मन में यही रहता है कि एक बार मार्क्स ले आऊं बाकी सब बाद में करूंगा. केवल परीक्षा के अंक ही जिंदगी नहीं हैं. कोई एक परीक्षा पूरी जिंदगी नहीं है. ये एक महत्वपूर्ण पड़ाव है, लेकिन यही सब कुछ है, ऐसा नहीं मानना चाहिए.’

यह भी पढ़े  फर्जीवाड़े पर रोक से 90 हजार करोड़ की बचत

‘तकनीक अहम लेकिन हम इसका गुलाम न बनें’
पीएम मोदी ने कहा, ‘तकनीक को अपना दोस्त बनाएं, विज्ञान और तकनीका जीवन में बड़ा महत्व है लेकिन स्मार्टफोन से ज्यादा वक्त आप अपने परिवार के साथ गुजारें.”

प्रधानमंत्री ने कहा,’स्मार्ट फोन जितना आपका समय चोरी करता है, उसमें से 10 प्रतिशत कम करके आप अपने मां, बाप, दादा, दादी के साथ बिताएं. तकनीक हमें खींचकर ले जाए, उससे हमें बचकर रहना होगा. हमारे अंदर यह भावना होनी चाहिए कि मैं तकनीक को अपनी मर्जी से इस्तेमाल करूंगा.’

उन्होंने कहा, ‘तकनीक का जिंदगी में अहम स्थान है लेकिन इसका गुलाम नहीं बनना चाहिए. दिन में एक या दो घंटा ऐसे निकालिए जब आप तकनीक से दूर रहें’ घर में एक कमरा ऐसा हो जहां तकनीक की एंट्री बंद हो.’

‘हमारे बच्चों में हर चीज की समझ है’
पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत के बच्चों में हर चीज की समझ है, भारत का बच्चा एक सुपर पॉलिटिशियन होता है’. उन्होंने कहा, ‘अधिकार और कर्त्तव्य जब साथ साथ बोले जाते हैं, तभी सब गड़बड़ हो जाता हैं.जबकि हमारे कर्त्तव्य में ही सब अधिकार समाहित हैं. जब मैं एक अध्यापक के रूप में अपना कर्त्तव्य निभाता हूं, तो उससे विद्यार्थियों के अधिकारों की रक्षा होती है.’

यह भी पढ़े  पटना विवि छात्र संघ चुनाव के लिए नामांकन की प्रक्रिया संपन्न, मतदान 17 को

‘जब अच्छा लगे तब पढ़ो’
प्रधानमंत्री ने कहा,’हमारे यहां ऐसा माना गया है कि सुबह बहुत ही उत्तम कालखंड होता है और सुबह अध्ययन किया जाए ज्यादा अच्छा रहता है. जरूरी नहीं है कि हमें रात में पढ़ना है या सुबह पढ़ना सभी की विशेषताएं होती हैं. आप को जब सहूलियत लगे उस समय पढ़ें’

तनाव दूसरे करने के मकसद से शुरू हुआ है कार्यक्रम
यह कार्यक्रम इस उद्देश्य से शुरू किया गया था कि छात्र तनावमुक्त होकर परीक्षा दे सकें. परीक्षा पे चर्चा का पहला संस्करण 16 फरवरी, 2018 को आयोजित हुआ था और इसका दूसरा संस्करण 29 जनवरी, 2019 को हुआ था.

छात्रों के बीच प्रधानमंत्री की यह चर्चा लोकप्रिय रही है, और यही कारण है कि पिछले वर्ष के मुकाबले 250 अधिक छात्रों ने इस बार परीक्षा पर चर्चा के लिए अपना पंजीकरण करवाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here