ममता’ के गढ़ में आज पीएम मोदी,राष्ट्र को समर्पित करेंगे चार धरोहर, ममता बनर्जी के साथ साझा कर सकते हैं मंच

0
46

‘ममता’ के गढ़ यानि की पश्चिम बंगाल में आज (शनिवार) पीएम मोदी अपने दो दिवसीय यात्रा पर कोलकाता पहुंच रहे हैं.  यहां वो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से राजभवन में मुलाकात करेंगे. वहीं बता दें कि पीएम मोदी की यात्रा को देखते हुए माकपा और कांग्रेस संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के मुद्दे पर विरोध-प्रदर्शन करने का फैसला किया है.

प्रधानमंत्री इस दौरान उनका कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होंगे। PMO के अनुसार, शनिवार को प्रधानमंत्री कोलकाता में चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे । बयान में कहा गया है कि इन इमारतों में पुराना करेंसी बिल्डिंग, बेल्वेदेरे हाउस, मेटकॉफ हाउस और विक्टोरिया मेमोरियल हाल शामिल है।

पश्चिम बंगाल दौरे से पहले पीएम मोदी ने किया ट्वीट करते हुए कहा था , ‘आज और कल पश्चिम बंगाल में रहने को लेकर उत्साहित हूं. विवेकानंद जयंती के अवसर पर रामकृष्ण मिशन में समय बिताने को लेकर उत्साहित हूं, वह जगह कुछ खास है.

प्रधानमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार, शनिवार को प्रधानमंत्री कोलकाता में चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। बयान में कहा गया है कि इन इमारतों में पुराना करेंसी बिल्डिंग, बेल्वेदेरे हाउस, मेटकॉफ हाउस और विक्टोरिया मेमोरियल हाल शामिल है। वहीं, पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक, रविवार को एक कार्यक्रम में पीएम मोदी और TMC प्रमुख तथा मुख्यामंत्री ममता बनर्जी मंच भी साझा कर सकते हैं।

यह भी पढ़े  उपेंद्र कुशवाहा के दो विधायक JDU में शामिल होंगे !

मोदी कोलकाता हवाई अड्डे से शहर के मध्य व्यापारिक जिले में बीबीडी बाग क्षेत्र के ऐतिहासिक करेंसी बिल्डिंग जायेंगे, जहां वह एक कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे।

मोदी कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होंगे और शनिवार शाम राज भवन में ममता बनर्जी के साथ एक बैठक करेंगे। राज्य सचिवालय के एक अधिकारी ने इसकी पुष्टि की।

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘ जहां तक हमें मालूम है, वह (ममता बनर्जी) 12 जनवरी को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट (केओपीटी) के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी, जहां प्रधानमंत्री भी मौजूद होंगे।

सुरक्षा को लेकर अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की निर्धारित यात्रा के लिए अभेद्य व्यवस्था की योजना बनायी है। शनिवार को हवाई अड्डे से शहर में आने वाली सड़कों के दोनों किनारे बैरीकेड लगे होंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ प्रदर्शनकारियों द्वारा रास्ता रोकने या काला झंडा दिखाने के खतरे को रोकने के लिए इन सडक़ों पर अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था होगी।

यह भी पढ़े  काम करने में विश्वास रखती है हमारी सरकार : मुख्यमंत्री

खुफिया शाखा ने राज्य सरकार को रिपोर्ट दी है कि कम से कम तीन संगठन हवाई अड्डे और सड़कों पर इकट्ठा होने और प्रधानमंत्री को काला झंडा दिखाने की योजना बना रहे हैं। अधिकारी के अनुसार सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शनकारियों द्वारा काला झंडा दिखाने और रास्ता रोकने की संभावना के मद्देनजर हवाई अड्डे से शहर तक पहुंचने के लिए प्रधानमंत्री के काफिले के इस्तेमाल में आने वाले मार्ग को सुरक्षा के लिहाज से पुख्ता बनाने की योजना बनायी गयी है।

पश्चिम बंगाल प्रशासन ने शनिवार शाम से शुरू हो रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो दिवसीय कोलकाता यात्रा के दौरान किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए अभेद्य सुरक्षा व्यवस्था की योजना बनायी है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

बंगाल भाजपा के नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल के कोलकाता की दो दिवसीय यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने की संभावना है, ताकि उन्हें नए नागरिकता कानून पर तृणमूल के ‘‘दुष्प्रचार अभियान’’ का मुकाबला करने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताया जा सके। पार्टी के सूत्रों ने यह जानकारी दी।

यह भी पढ़े  JDU में दिख रही कॉर्डिनेशन की कमी, प्रशांत किशोर को नीतीश कुमार का मिला साथ

शनिवार एवं रविवार को मोदी कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे । वे कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के वर्तमान एवं सेवानिवृत कर्मचारियों के पेंशन फंड मे कमी को पूरा करने के लिये अंतिम निपटारे के तहत 501 करोड़ रूपये का चेक भी भेंट करेंगे।

पीएम मोदी कोलकाता में जिन चार धरोहरों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे उनकी मरम्मत एवं साज सज्जा का काम संस्कृति मंत्रालय ने किया है। मंत्रालय विभिन्न मेट्रो शहरों में ऐसी प्रसिद्ध इमारतों के आसपास सांस्कृतिक स्थलों का विकास कर रही है। इसके तहत कोलकाता, दिल्ली, मुम्बई, अहमदाबाद और वाराणसी में परियोजना को लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here