एएन कॉलेज में हो सकेगी पत्रकारिता की पढ़ाई

0
106

एएन कॉलेज में आयोजित पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन में राजनीति के दिग्गजों ने भी शिरकत की। राज्यसभा सदस्य आरके सिन्हा ने कॉलेज में पत्रकारिता संकाय की स्थापना के लिए एक करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की। साथ ही ऐलान किया कि हर साल वे एएन कॉलेज के पांच प्रतिभाशाली छात्रों व पांच छात्राओं को अपने माता-पिता एसपी सिन्हा और अन्नपूर्णा देवी की स्मृति में वजीफा देंगे। भाजपा नेता श्री सिन्हा ने बतौर विशिष्ट अतिथि कार्यक्रम में शिरकत करते हुए एएन कॉलेज के पीछे निर्माणाधीन दीघा-आर ब्लॉक की सड़क की तरफ एएन कॉलेज को विस्तारित करने का सुझाव दिया। साथ ही कॉलेज के प्राचार्य व सभी पूर्ववर्ती छात्र-छात्राओं को यह भी आश्वासन दिया कि वे एएन कॉलेज में पत्रकारिता संकाय की स्थापना में अपनी तरफ से हरसंभव मदद करेंगे। श्री सिन्हा ने पटना विविद्यालय की एक छात्रा के साथ हुई घटना का भी जिक्र किया और कहा कि इस तरह की विकृत मानसिकता वाले छात्रों का समाज में कोई स्थान नहीं है। हम इस तरह की घटनाओं की रोकथाम का मामला संसद में भी उठाएंगे। सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद संजय निरुपम ने कहा कि जब मुझे अपने कॉलेज से पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन में शामिल होने को आमंत्रित किया गया तो मैं अपनी व्यस्तताओं के बीच भी इसमें शामिल होने का अवसर गंवाना नहीं चाहता था। उन्होंने कहा कि मैंने इस कॉलेज द्वारा मंचित पहले नाटक में भी किरदार निभा चुका हूं। उन्होंने भी कॉलेज के पुराने शिक्षकों, स्टाफ और अपने सहपाठियों को याद किया। इस मौके पर पूर्ववर्ती छात्र व इफ्फको के निदेशक प्रेमचंद मुंशी भी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन कॉलेज के प्राचार्य एसपी शाही ने किया। इस मौके पर एएन कॉलेज पूर्ववर्ती छात्र संघ के अध्यक्ष अखिलेश कुमार समेत कॉलेज के सैकड़ों पूर्व छात्र व छात्राएं मौजूद थे। श्री सिन्हा ने 60 के अंतिम और 70 के दशक की शुरुआत में एएन कॉलेज से पढ़ाई की थी। वहीं, कांग्रेस के पूर्व सांसद संजय निरुपम ने 80 से 84 तक यहां पढ़ाई की थी।

यह भी पढ़े  झूठ के सहारे चुनावी वैतरणी पार करना चाह रहे हैं राहुल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here