पटना गैंगरेप के विरोध में सड़क पर उतरें छात्र-छात्राएं, लाठीचार्ज

0
96

राजधानी पटना के बीएन कॉलेज में पढ़नेवाली 19 वर्षीय छात्रा के साथ कॉलेज के छात्र विपुल और उसके अन्‍य साथियों द्वारा गैंगरेप करने के मामले में दो आरोपितों मनीष और विपुल ने शुक्रवार को अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. वहीं, दूसरी ओर आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर छात्र-छात्राएं पटना की सड़क पर उतर आये हैं.

सड़क पर उतरे छात्र-छात्राएं, पुलिस ने किया वाटर कैनन का इस्तेमाल
राजधानी पटना में छात्रा के साथ गैंगरेप के बाद शुक्रवार को छात्र-छात्राएं सड़क पर उतर आये. सभी छात्र-छात्राएं आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. कारगिल चौक पर शुक्रवार को प्रदर्शन कर रहे छात्र-छात्राओं में कई कॉलेजों की छात्राएं शामिल हैं. प्रदर्शन के दौरान छात्राओं की पुलिस के साथ नोकझोंक भी हुई. छात्रों के उग्र प्रदर्शन पर काबू पाने के लिए पुलिस ने लाठियां भी चटकायीं. साथ ही छात्र-छात्राओं को तितर-बितर करने के लिए वाटर कैनन का इस्तेमाल किया.

क्या है मामला?
राजधानी पटना के एक कॉलेज में पढ़नेवाली छात्रा को उसका फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी देकर आरोपितों ने उसे धोखे से बीते नौ दिसंबर की दोपहर पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र के नेहरू पथ स्थित अग्नि कुमार नाम के एक युवक के घर में बुलाया और रेप किया. रेप की शिकार पीड़ित छात्रा महिला थाने में पहुंची, जहां पुलिस ने मामला दर्ज कर पांचों आरोपितों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी. इधर, घटना की जानकारी एसएसपी को मिलने के बाद छापेमारी अभियान शुरू कर दिया. इसके बाद अग्नि कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वहीं, अन्य दो आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

यह भी पढ़े  स्थापना दिवस पर एआईएसएफ ने निकाला जुलूस

पुलिस को दिये बयान में छात्रा ने बताया कि वह निजी रूम लेकर बीएन कॉलेज में बीए की पढ़ाई करती है. उसी कॉलेज में पढ़नेवाले सीनियर छात्र विपुल कुमार से उसकी दोस्ती हुई. फिर विपुल ने झूठे प्यार का नाटक रचा और अपने साथ मोबाइल में कई अश्लील तस्वीरें कैद कर लीं. उसके बाद उसने अपने दोस्त अग्नि, भूमि, मनीष अश्विनी सिंह और अमन कुमार को प्यार के बारे में बताया. सभी ने मिल कर रेप की योजना बनायी और घटना से 10 दिन पहले विपुल फिर से प्यार का नाटक करने लगा और धोखे से पाटलिपुत्र स्थित अग्नि कुमार के कमरे में बुलाया. पीड़िता की मानें, तो पहले से कमरे में बाकी दोस्त मौजूद थे और बारी-बारी से बलात्कार किया. विरोध करने के दौरान उन लोगों ने जान से मारने की धमकी दी.

माता-पिता को दी पूरी घटना की जानकारी

गैंगरेप के कारण छात्रा की तबीयत खराब होने लगी. छात्रा को बुखार के साथ ब्लीडिंग होने लगी. उसके बाद उसने पूरी घटना की जानकारी अपने माता-पिता को दी. बेटी के साथ गैंगरेप के बाद आक्रोशित माता-पिता ने पहले 100 नंबर डायल पर फोन कर सूचना दी. पीड़ित छात्रा पाटलिपुत्र थाने पहुंची, जहां से लेडीज पुलिसकर्मियों के साथ उसे महिला थाने रेफर किया गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर छात्रा का मेडिकल टेस्ट कराया, जहां रेप की पुष्टि हुई है. फिलहाल छात्रा शहर के एक निजी अस्पताल में इलाज करा रही है. परिजनों ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए महिला थाने की एसएचओ व एसएसपी से गुहार लगायी है.

यह भी पढ़े  24 घंटे के भीतर कंकड़बाग से दूर करें जलजमाव : मंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here