जिंदगी की जंग हार गई बेतिया की पीड़िता, प्रेमी ने जलाया था जिंदा

0
45

बेतिया: बिहार के बेतिया जिले के नरकटियागंज में प्रेमी द्वारा जिंदा जलाए जाने के बाद पीड़िता की आज इलाज के दौरान मौत हो गई. पीड़िता को बेतिया से पटना रेफर किया गया था लेकिन हाजीपुर में मौत हो गई. बेतिया में देर रात पीड़िता का पोस्टमार्टम किया गया और परिजनों को शव सौंप दिया गया. जिंदगी की जंग इस तरह हार जाने से पीड़िता के गांव में मातम छा गया है. आपको बता दें कि इस मामले में आरोपी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया था.

एसडीपीओ सूर्यकान्त चौबे ने पास के गांव से ही किया गिरफ्तार, स्पेशल टीम ने छापेमारी कर गिरफ्तार किया है.
आपको बता दें कि यह नरकटियागंज के एक गांव का मामला है जहां एक लड़की के साथ पहले लड़का यौन शौषण करता रहा और जब लड़की गर्भवती हो गई और शादी की बात की तब प्रेमी ने अपने साथियों के साथ लड़की के घर में घुसकर मिटटी का तेल छिड़ककर जिंदा जला डाला.

यह भी पढ़े  फतुहा में तीन कटे सिर मिलने से सनसनी

लड़की को गंभीर हालत में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था और पीड़िता का इलाज चल रहा था. बेहतर इलाज के लिए उसे पटना रेफर किया गया लेकिन हाजीपुर में ही उसकी मौत हो गई.

एसडीपीओ सूर्यकांत चौबे ने बताया कि नरकटियागंज के पास एक गांव का मामला है जहां लड़की लड़के से प्रेम करती थी और एक महीने की प्रेग्नेंट थी. वो बार-बार शादी करने की बात कह रही थी जो प्रेमी को मंजूर नहीं था. साथ ही एसडीपीओ सूर्यकांत चौबे ने बताया कि मंगलवार को जब लड़की के घर पर कोई नहीं था तो घर में दोस्तों के साथ घुसकर प्रेमी ने उसे जिंदा जला दिया.

मुजफ्फरपुर के बाद मंगलवार को पश्चिम चंपारण जिले में शिकारपुर थाना क्षेत्र के महम्मदपुर गांव में एक प्रेमिका को यौन शोषण के बाद मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगाने का मामला प्रकाश में आया है।पुलिस अधीक्षक नताशा एस गुड़िया ने मंगलवार को यहां युवती को जलाए जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि मामला प्रेम प्रसंग का है। युवती गर्भवती है। वह शादी के लिए युवक पर दबाव बना रही थी, लेकिन पीछा छुड़ाने के लिए युवक ने युवती को मिट्टी तेल डालकर जला दिया। उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी अरमान को गिरफ्तार कर लिया है। नरकटियागंज अनुमंडलीय अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. शिवकुमार ने बताया कि युवती 90 प्रतिशत से अधिक झुलस गई है। उन्होंने बताया कि बेहतर इलाज के लिए उसे राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय (जीएमसी) बेतिया भेजा गया है। वहीं, एसडीपीओ सूर्यकांत चौबे ने पीड़िता का बयान दर्ज किया। बयान के मुताबिक अरमान ने शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया लेकिन जब शादी के लिए उसने दबाव बनाया, तो मंगलवार को सुबह घर में आकर उसके ऊपर मिट्टी का तेल छिड़क दिया और फिर आग लगा दी। गौरतलब है कि इससे पूर्व मुजफ्फरपुर जिले में अहियापुर थाना क्षेत्र के नाजिरपुर गांव में शनिवार की रात 23 वर्षीय युवती के साथ उसके पड़ोसी ने दुष्कर्म का प्रयास किया, लेकिन विरोध के कारण जब वह अपने मकसद में कामयाब नहीं हुआ, तो उसने युवती को आग लगा दी। पीड़िता 50 प्रतिशत से अधिक झुलस गई है। उसे श्रीकृष्ण चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल (एसकेएमसीएच), मुजफ्फरपुर में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति नाजुक बताई जाती है। मुजफ्फरपुर के वरीय पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। उन्होंने बताया कि मामले में गहन अनुसंधान और पूछताछ के लिए पुलिस न्यायालय से आरोपी को पुलिस रिमांड पर सौंपे जाने का आग्रह करेगी।

यह भी पढ़े  ‘भाजपा शासित राज्यों में दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here