ड्रेनेज सिस्टम के लिए ग्लोबल टेंडर जारी:उपमुख्यमंत्री

0
38

राजधानी पटना को जलजमाव से निजात दिलाने और जल निकासी की व्यवस्था को सुदृढ़ करने की रणनीति के तहत वृहद कार्ययोजना बनाई गई है। डेडिकेटेड फीडर के साथ सभी सम्प हाउस की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे व कम्प्यूटर पण्राली से जुड़ा एक नियंतण्रकक्ष का निर्माण कराया जायेगा।उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने मंगलवार को नगर विकास, पटना नगर निगम और बुडको के आलाधिकारियों के साथ बैठक कर सम्प हाउस की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि दीर्घकालिक योजना के तहत 130 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में ड्रेनेज सिस्टम की प्लानिंग के लिए ग्लोबल टेंडर आमंत्रित किया गया है। साथ ही सभी 39 सम्प हाउस को बारिश के दिनों में पानी में डूबने से बचाने के लिए ऊंची दीवार के निर्माण और पम्प हाउस की मरम्मत के लिए निविदा जारी हो चुकी है। उन्होंने कहा कि बिजली नहीं रहने की स्थिति में सम्प हाउस सुचारु रूप से काम करें, इसके लिए उच्च क्षमता के ध्वनिरहित डीजी सेट की खरीददारी होगी। वैसे इलाके, जहां सम्प हाउस नहीं हैं, वहां ट्रॉली बेस्ड अतिरिक्त 40 डीजल पम्प सेट मई के पहले खरीदे जायेंगे, ताकि जलजमाव होने पर तेजी से पानी की निकासी हो सके। पटना नगर निगम 1 अप्रैल से कुर्जी, सैदपुर, मंदिरी व अन्य इलाकों के बड़े सभी नालों की सफाई युद्धस्तर पर करायेगा। हर बड़े नाले के लिए एक-एक पदाधिकारी को प्रभारी बनाया गया है, जो सफाई, चौड़ाई, गहराई, अतिक्रमण की स्थिति और पक्कीकरण आदि कायरे के लिए जिम्मेवार होंगे। साथ ही सभी मैनहॉल व कैचपिट का सव्रेक्षण कर नक्शा तैयार किया जायेगा। बैठक में नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा, उद्योग मंत्री श्याम रजक,विधायक अरुण कुमार सिन्हा, पटना की मेयर श्रीमती सीता साहु, नगर विकास सचिव आनन्द किशोर, बुडको के एमडी चन्द्रशेखर सिंह व नगर आयुक्त अमित कुमार पाण्डेय आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  जिस केंद्र पर परीक्षा में गड़बड़ी प्रमाणित होगी वहां के केंद्राधीक्षक पर की जायेगी कार्रवाई : मंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here