शिक्षा के उत्थान के बिना विकास अधूरा

0
42
PATNA GARDANI BAGH MEIN BIHAR MADHMIK SHISHAK SANGH DUARA AYOJIT ANISHCHITKALEEN DHERNA PER BAITHE BIHAR STATE CONGRESS PRESIDENT MADAN MOHAN JHA

जिस राज्य में शिक्षक अपने हक के लिए सड़कों पर उतरे वह राज्य उन्नति की राह पर टिक नहीं सकता है। शिक्षा के विकास और शिक्षकों के उत्थान के बिना किसी राज्य व राष्ट्र के विकास की कल्पना करना बेमानी है। ये बातें बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के संयुक्त सचिव सह ललित नारायण मिथिला विविद्यालय व कामेश्वर सिंह मिथिला विविद्यालय, दरभंगा के सिनेटर सुरेश राय ने बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर राज्य के नियोजित शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों के चार वषों से लंबित सेवाशर्त नियमावली के निर्धारण, मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी सातवां वेतन आयोग की अनुशंसा के आलोक में वेतनमान लागू करने सहित विभिन्न लंबित मांगों को लेकर विधानमंडल के समक्ष (गर्दनीबाग धरना स्थल) चल रहे तीन दिवसीय शांतिपूर्ण धरना कार्यक्रम के दूसरे दिन बुधवार को शामिल शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों को संबोधित करते हुए कही। इस धरना कार्यक्रम के दूसरे दिन मुंगेर, दरभंगा और भागलपुर प्रमंडल अंतर्गत जिलों के हजारों की संख्या में शिक्षक, पुस्तकालयाध्यक्ष सहित प्रखंड से प्रमंडल स्तर के संघीय पदाधिकारियों ने अपनी आवाज बुलंद की। संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडेय ने कहा कि न्याय के साथ विकास का नारा देने वाली सरकार राज्य के नियोजित शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों के साथ न सिर्फ अन्याय कर रही है,बल्कि शिक्षकों के बिना विकास का ढ़िढोरा पिट रही है। विश्व के विकसित देश अपने यहां अन्य कर्मियों से ज्यादा सुविधाएं अपने शिक्षकों को देते हैं क्योंकि वे जानते हैं कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता होता है।कई विधान पार्षद व विधायकों का समर्थनधरना में विधान पार्षद संजीव कुमार सिंह, प्रो संजय कुमार सिंह, मदन मोहन झा, दिलीप चौधरी, विधायक पूनम पासवान ने शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों को संबोधित करते हुए उनकी लड़ाई में मांगें पूरी होने तक सड़क से लेकर सदन तक साथ देने का वादा किया। धरना कार्यक्रम की अध्यक्षता संघ के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह और संचालन संघ के शैक्षिक परिषद के सचिव शशिभूषण दूबे ने की।कल ये देंगे धरनासंघ के मीडिया प्रभारी सह प्रवक्ता अभिषेक कुमार ने बताया कि गुरुवार (28 नवंबर) को पटना, मगध, सारण और प्रमंडलों के शिक्षक, पुस्तकालयाध्यक्ष सहित प्रखंड से प्रमंडल स्तर के सभी संघीय पदाधिकारी भाग लेंगे। साथ ही संघ के पदाधिकारी धरनास्थल पर रहेंगे।

यह भी पढ़े  शुकराना समारोह के मौके पर शास्त्रीय संगीत व नृत्य से गुलजार हुआ SKM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here