लोकसभा में मार्शल के साथ कांग्रेसी सांसदों की धक्का-मुक्की, बीजेपी ने बोला हमला

0
49

महाराष्ट्र मुद्दे पर लोकसभा में सोमवार को कांग्रेस समेत विपक्षी सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान सांसद हिबी इडेन और टीएन प्रतापन वेल में मार्शलों से भिड़ गए। इस भिड़ंत के बाद कांग्रेस सांसदों ने स्पीकर ओम बिरला से मार्शलों की शिकायत भी कर दी। इस बीच, सूत्रों के अनुसार स्पीकर दोनों सांसदों के खिलाफ कार्रवाई कर सकते हैं। इधर, बीजेपी ने कांग्रेस सांसदों की हरकत की जोरदार निंदा करते हुए स्पीकर से कार्रवाई की मांग की है।

लिखेंसदन में हुई थी धक्का-मुक्की
बता दें कि भारी हंगामे और पार्टी के दो सदस्यों हिबी इडेन एवं टी एन प्रतापन तथा मार्शलों के बीच धक्का-मुक्की के कारण सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी। एक बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे पुन: आरंभ होने के साथ ही पीठासीन सभापति राजेंद्र अग्रवाल ने सभा की बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इधर बीजेपी ने कांग्रेस सांसदों की हरकत की निंदा करते हुए कहा कि वह इस मामले में स्पीकर की कार्रवाई का इंतजार करेगी। उधर, कांग्रेस सांसद हिबी ने कहा कि उन्होंने लोकतांत्रिक तरीके से सदन में प्रदर्शन किया था।

पोस्टर-बैनर संग वेल में पहुंचे सांसद
इससे पहले सोमवार सुबह लोकसभा की कार्यवाही आरंभ होते ही कांग्रेस सदस्य नारेबाजी करते और पोस्टर लिए हुए आसन के निकट पहुंच गए। इडेन और प्रतापन ने बड़ा पोस्टर ले रखा था जिस पर ‘स्टॉप मर्डर ऑफ डिमोक्रेसी’ लिखा था। नारेबाजी के बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने प्रश्नकाल शुरू कराया और अनुसूचित जाति के लड़के-लड़कियों के छात्रावास विषय पर पूरक प्रश्न पूछने के लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम पुकारा। इस सत्र में पहली बार सदन में पहुंचे गांधी ने सवाल पूछने से इनकार करते हुए कहा, ‘महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या हुई है, ऐसे में मेरे सवाल पूछने का कोई मतलब नहीं है।’

यह भी पढ़े  कश्‍मीर पर विवादित बयान देने वाले ट्रंप ने अब क्‍यों कहा- PM मोदी बेहद शानदार व्‍यक्ति हैं?

स्पीकर ने दी सांसदों को चेतावनी
इसी बीच स्पीकर बिरला ने बड़ा पोस्टर लहरा रहे इडेन और प्रतापन को ऐसा नहीं करने की चेतावनी दी। सदस्यों के नहीं मानने पर स्पीकर ने मार्शलों को दोनों कांग्रेस सदस्यों को सदन से बाहर करने का आदेश दिया।इसके बाद मार्शल इन दोनों सदस्यों को सदन से बाहर ले जाने के लिए पहुंचे तो उनके साथ इडेन, प्रतापन और अन्य कांग्रेस सदस्यों की धक्का-मुक्की हो गई। इस दौरान बीजेपी के कई सदस्य और कांग्रेस के मुख्य सचेतक के. सुरेश बीच-बचाव करते हुए नजर आए। इस बीच, स्पीकर ने मार्शलों को लौटने के लिए कहा। हंगामा बढ़ता देख अध्यक्ष बिरला ने सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। शीतकालीन सत्र में पहली बार प्रश्नकाल में सदन की बैठक स्थगित हुई है।

बीजेपी का हल्लाबोल
लोकसभा में कांग्रेस सासंदों पर करारा वार करते हुए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना को बहुमत मिला। फिर शिवसेना 30 साल के रिश्ते तोड़ कांग्रेस के साथ चली गई। आप बताएं कि हम कैसे लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं? लोकसभा में कांग्रेस सासंदों की हरकत की निंदा करते हुए प्रसाद ने कहा कि यह बेहद पीड़ादायक है। कांग्रेस के सांसदों ने संसदीय संस्कार की सारी सीमाएं लांघ दीं। उन्होंने कहा कि स्पीकर इस मामले फैसला करेंगे।

यह भी पढ़े  जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने जताया अपने पर खेद, लेकिन कहा व्यक्तिगत भावना यही

कांग्रेस सांसद की सफाई
ईबी ने अपनी सफाई में कहा, ‘हमने एक अहम मुद्दा उठाया लोकसभा में और लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन किया। दुर्भाग्य से हमें मार्शल के द्वारा बाहर ले जाया गया, जो मुझे जबरदस्ती बाहर ले जा रहे थे। मैंने इस बारे में स्पीकर के पास शिकायत की है। हम सदन के वेल में थे। जबतक मार्शल वेल में नहीं घुसे हमारा उनसे कोई संपर्क नहीं था। वे हमसे बैनर लेने की कोशिश करने लगे। हमारी महिला साथियों के साथ भी धक्का-मुक्की की गई।’

दो महिला सांसदों ने स्पीकर से की मार्शलों की शिकायत
कांग्रेस की दो महिला सांसदों राम्या हरिदास और ज्योतिमणि ने स्पीकर ओम बिरला से शिकायत की है कि उनके साथ लोकसभा मार्शल ने धक्का-मुक्की की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here